स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण-सुरक्षित जननी विकसित धरणी का लक्ष्य तभी पूरा जब मिले सभी को लाभ

करौली. महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से मंगलवार को यहां एक मैरिज गार्डन में दिवसीय प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना कार्यशाला आयोजित की गई।

करौली. महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से मंगलवार को यहां एक मैरिज गार्डन में दिवसीय प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला का उद्घाटन मुख्य अतिथि जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रकाश चंद मीना किया।

मीना ने कहा कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में पात्र महिलाओं को अधिक से अधिक लाभ मिले, जिससे स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण-सुरक्षित जननी विकसित धरणी का लक्ष्य पूर्ण हो सके।
उन्होंने कहा कि यह सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना है, जिसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं महिला बाल विकास के कार्मिकों के प्रयास से पात्र महिलाओं को चिन्हित करते हुए अधिकाधिक लाभ दिलाकर जिले को अग्रणी बनाया जा सकता है।

महिला बाल विकास विभाग की उपनिदेशक शांति वर्मा ने कहा कि मातृ वंदना योजना सप्ताह 2 दिसम्बर से 8 दिसम्बर तक आयोजित किया गया, जिसमें जिले में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना जनवरी 2017 से प्रारंभ की गई, जिसके तहत प्रथम गर्भ धारण करने वाली पात्र महिला को तीन किश्तों में पंाच हजार रुपए की राशि प्रदान की जाती है।

बाल विकास परियोजना अधिकारी सपोटरा जोगेन्द्र सिंह, बाल विकास परियोजना अधिकारी हिण्डौन जितेन्द्र जिंदल ने कहा कि मातृ वंदना योजना के अनुभव महिला पर्यवेक्षक एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से साझा किए गए। कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारी टोडाभीम भयसिंह मीना एवं करौली बाल विकास परियोजना अधिकारी राजेश्वरी मित्तल ने भी विचार व्यक्त किए।

इस मौके पर सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी धर्मेन्द्रकुमार मीना, एपीआरओ बृजेश त्रिवेदी ने कहा कि योजना के तहत अभी तक लाभान्वित नहीं नहीं हुई महिलाओं को चिन्हितह कर तीनों किश्त शीघ्र दी जाएं। इस मौके पर मातृ वंदना योजना में उत्कृष्ट कार्य करने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रमाण पत्र एवं शील्ड प्रदान कर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में डीपीसी सतीश शर्मा, डीआईएसएम लेखराज अम्बेश, महिला पर्यवेक्षक, एनटीटी टीचर एवं महिला बाल विकास विभाग के कार्मिक उपस्थित रहे।

Dinesh sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned