यहां व्यर्थ में बहता पानी, लोगों की बढ़ रही परेशानी

करौली. शहर में एक ओर लीकेजों के कारण जहां पानी की बर्बादी हो रही है,

By: Dinesh sharma

Updated: 14 Sep 2020, 10:10 PM IST

करौली. शहर में एक ओर लीकेजों के कारण जहां पानी की बर्बादी हो रही है, वहीं दूसरी ओर आए दिन विभिन्न मोहल्ले-कॉलोनियों के बाशिंदे पेयजल समस्या की शिकायत करते नजर आते हैं, लेकिन शहरी जल योजना का जिम्मा निभा रही नगरपरिषद इस व्यवस्था को दुरुस्त करने के प्रति गंभीर नहीं है।

शहर की तांबे की टोरी, चौबे पाड़ा आदि मोहल्लों में तो अधिकांश समय पेयजल समस्या बनी रहती है। इन क्षेत्रों के बाशिंदे आए दिन पेयजल संकट की शिकायत करते रहते हैं, लेकिन यहां स्थायी समाधान नहीं हो पा रहा। वहीं दूसरी ओर पाइप लाइन, बोरवेल से लीकेज के कारण हजारों लीटर पेयजल रोज व्यर्थ बह रहा है। जबकि लीकेज के चलते विभिन्न स्थानों पर शहरवासियों को कम दबाव पर आपूर्ति होने के कारण पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है।

लोगों का कहना है कि कई बार नगर परिषद सहित अन्य अधिकारियों को बार-बार शिकायत के बाद भी आमजन की समस्याओं का समाधान नहीं हो रहा है। जिसके चलते लोगों में अव्यवस्थाओं को लेकर रोष भी है। तांबे की टोरी क्षेत्र निवासी शिवकुमार शर्मा, रामसिंह, केशव आदि ने बताया कि मोहल्ले में पेयजल संकट से निजात नहीं मिल रही है। नियिमत रूप से पानी नहीं आता। वहीं कम दबाव से पानी आने से समुचित पानी के अभाव में परेशानी होती है। शिवकुमार के अनुसार मासलपुर दरवाजे के बाहर स्थित बोरवेल में लीकेज के चलते प्रतिदिन हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह जाता है। नई पाइप लाइन के जरिए नियमित रूप से पानी नहीं आ रहा।

इधर बोरवेल के साथ ही सप्लाई वॉल्व एवं पाइप लाइन में भी जगह-जगह लीकेज है। जिसके कारण बड़ी मात्रा में पेयजल व्यर्थ बह जाता है। पाइप लाइन में लीकेज के चलते ही लोगों को कम दबाव पर पेयजल आपूर्ति होती है। जिसके चलते ऊंचाई वाले क्षेत्रों में तो और भी अधिक परेशानी होती है। पर्याप्त मात्रा में पेयजल नहीं मिल पाता और जल संकट का सामना करना पड़ता है।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned