बजट में उपेक्षा पर सरकार के खिलाफ आक्रोश

बजट में उपेक्षा पर सरकार के खिलाफ आक्रोश

Anil dattatrey | Updated: 16 Jul 2019, 10:50:18 PM (IST) Karauli, Karauli, Rajasthan, India

Opposition against government over neglect in budget.Roadways Labor Organizations carried out on Hindon Depot

रोडवेज श्रमिक संगठनों ने हिण्डौन डिपो पर दिया धरना


हिण्डौनसिटी. बीते वर्ष सत्तारूढ़ हुई कांग्रेस सरकार के पहले बजट में रोडवेज की अनदेखी होने से रोडवेज श्रमिक संगठनों का गुस्सा बाहर आने लगा है। श्रमिक संगठनों के संयुक्त मोर्चा बैनर तक सभी संगठनों के रोडवेज कर्मियों ने मंगलवार को हिण्डौन डिपो के मुख्यद्वार पर धरना देकर धरना प्रर्शन किया।


दोपहर में संयुक्त मोर्चा के बैनर तले एटक, इंटक, सीटू, बीजेएमएस, कल्याण समिति, रिटायर्ड एम्प्लाइज एसोसिएशन से संबद्ध रोडवेजकर्मी धरने पर बैठ गए। धरने को संबोधित करते हुए मुख्यवक्ता संयुक्त मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष गिर्राज प्रसाद शर्मा ने कहा कि सात माह पहले चुनाव के समय रोडवेजकर्मियों से वादा करनेे वाले कांग्रेस नेता वादों को भूल गए हैं। गत सितम्बर माह में सिंधी कैम्प बस अड्ड़े पर कांग्रेस ने सत्ता में आने पर रोडवेज को मजबूत करने की बात कही थी। लेकिन बजट में रोडवेज के लिए न तो बजट का आवंटन किया है और न ही कर्मचारियों की भर्ती का प्रावधान रखा है।

एसोसिएशन के सचिव पूरण शर्मा व एटक के सचिव सत्यवीर सिंह डागुर ने नाराजगी जताई कि आम विभाग और सरकारी उपक्रमों की तहत रोडवेज का बजट भाषण में नाम तक शामिल नहीं किया। इस दौरान एसोसिएशन अध्यक्ष रूपसिंह धाकड, एटक अध्यक्ष धारासिंह गुर्जर सहित अनेक पदाधिकारियों ने विचार व्यक्त किए। रोडवेज कम्रियों ने चेतावनी दी कि विधानसभा सत्र के दौरान रोडवेज की हालत संवारने के लिए बडी़ घोषणा नहीं की गई तो फिर से चक्काजाम आंदोलन का बिगुल बजा दिया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned