नि:शुल्क दवा योजना के ऑपरेटरों ने बताई समस्याएं, प्रदर्शन करके सौंपा ज्ञापन

नि:शुल्क दवा योजना के ऑपरेटरों ने बताई समस्याएं, प्रदर्शन करके सौंपा ज्ञापन

करौली। मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजनान्र्तगत में लगे कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर गुरुवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया और जिला कलक्टर को समाधान की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि राज्य सरकार ने 31 मार्च को आदेश जारी करके नि:शुल्क दवा योजना में लगे कम्प्यूटर ऑपरेटरों का मानदेय बढ़ाकर 11 हजार 826 रुपए कर दिया लेकिन करौली जिले में मानदेय में यह वृद्घि नहीं की गई है।

By: Surendra

Published: 24 Jun 2021, 07:59 PM IST

नि:शुल्क दवा योजना के ऑपरेटरों ने बताई समस्याएं

प्रदर्शन करके सौंपा ज्ञापन

करौली। मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजनान्र्तगत में लगे कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर गुरुवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया और जिला कलक्टर को समाधान की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में बताया गया है कि राज्य सरकार ने 31 मार्च को आदेश जारी करके नि:शुल्क दवा योजना में लगे कम्प्यूटर ऑपरेटरों का मानदेय बढ़ाकर 8500 रुपए से करके 11 हजार 826 रुपए कर दिया गया है लेकिन करौली जिले में सेवाएं दे रहे ऑपरेटरों के मानदेय में यह वृद्घि नहीं की गई है। इसी प्रकार ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि उच्च न्यायालय के निर्णय की पालना में चिकित्सा विभाग के निदेशक ने नि:शुल्क दवा योजना में लगे ऑपरेटरों को मेडिकल रिलीफ सोसाइटी (आरएमआरएस) में शामिल करने के आदेश जारी कर दिए थे। लेकिन हिण्डौन चिकित्सालय में इस आदेश की पालना नहीं हुई है। ज्ञापन में गुढ़ाचन्द्रजी के चिकित्सा प्रभारी अधिकारी द्वारा महिला कार्मिक को परेशान करने की शिकायत भी की गई है। कलेक्टर को ज्ञापन देने वालों में पुष्पेन्द्र गुर्जर, जितेन्द्र कश्यप, राहुल धाकड, मानसिंह मीणा, योगेश शर्मा शिवम कुमार सोनी आदि शामिल थे।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned