बीमा क्लेम लेने के लिए किसान ने रची अपनी ही हत्या की साजिश

खेत में जिस कमरे में फसल की करता था तकवारी, वहां मिले से खून से फैल गई थी सनसनी.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 21 Jan 2021, 11:36 AM IST

कटनी. रीठी के मझगवां गांव में अपने खेत से रहस्मयी तरीके से लापता हुआ किसान के मिल जाने के बाद जो कहानी सामने आई है वो हैरान करने वाली है। किसान रामफल पटैल ने बीमा क्लेम लेने के लिए अपनी ही हत्या की झूठी साजिश रची। वह खेत के जिस कमरे में रहकर फसल की तकवारी करता था वहां 19 जनवरी की सुबह खून के धब्बे मिलने के बाद परिजन परेशान हो गए। पुलिस को सूचना दी और रीठी पुलिस ने खून की जांच शुरू की।
हालांकि रीठी पुलिस ने पहले ही बता दिया था कि जब किसान का शव नहीं मिलता, तब तक नहीं कहा जा सकता कि उसके साथ क्या हुआ है। इस बीच 20 जनवरी की दोपहर किसान रामफल पटैल सतना जिले के मैहर में मिल गया। पुलिस किसान को लेकर रीठी पहुंची। कमरे में मिले खून और इस षडय़ंत्र में शामिल लोगों की तलाश शुरू की।
प्रभारी एसपी संदीप मिश्रा ने बताया कि शुरुआती पूछताछ में पुलिस को किसान रामफल पटैल ने बताया कि उसने कर्ज से परेशान होकर अपनी हत्या किए जाने का झूठा षडय़ंत्र रचा था और खेत में बने कमरे में मुर्गे का खून फैलाकर सतना जिले के लिए चला गया था।
बतादें कि 18 जनवरी की रात को रीठी थानांतर्गत मझगवां गांव निवासी रामफल पिता शिवलाल पटेल अपने घर से फसल की तकवारी के लिए खेत गया था। खेत में ही एक कमरा बना था जहां पर किसान रात में रहता था और फसल की तकवारी करता था। लेकिन दूसरे दिन सुबह काफी देर तक जब रामफल घर वापस नहीं आया तो उसके परिजनों ने खेत जाकर देखा। खेत में बने कमरे में रामफल नहीं था, कमरे में खून फैला हुआ था। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned