बसाड़ी केन्द्र प्रभारी और सर्वेयर के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

लापरवाही पर तीन अन्य धान खरीदी केंद्र प्रभारियों पर कार्रवाई.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 14 Jan 2021, 10:26 PM IST

कटनी. मझगवां तहसील बड़वारा स्थित उपार्जन केन्द्र बसाड़ी में कीड़ेयुक्त धान उपार्जित होने की पुष्टि होने और वारदानों में समिति की स्टेसिल नहीं पाए जाने के साथ ही टैग में किसान का नाम और पंजीयन नंबर भी नहीं होने पर बसाड़ी के उपार्जन केन्द्र प्रभारी सुशील गुप्ता और सर्वेयर अनुज सिंह भदौरिया के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 465, 468 और 120 बी के तहत बड़वारा थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। साथ ही उपार्जन केन्द्र प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

वहीं सर्वेयर के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही करने के लिये जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम को पत्र लिखा गया है। इसके अलावा उपार्जन केन्द्र प्रभारी मुहास (रीठी) सुधीर राय को अधिक मात्रा में अमानक धान उपार्जित करने तथा धान की सफाई की उचित व्यवस्था नहीं करने के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

इसी तरह उपार्जन केन्द्र प्रभारी कांटी अजीत दुबे के द्वारा भी अमानक की गई धान का विधिवत् समय पर निराकरण नहीं किये जाने और उन्हें जारी कारण बताओ नोटिस का जवाब प्रस्तुत नहीं करने पर प्रभार से निलंबित भी कर दिया गया है। उपार्जन केन्द्र प्रभारी देवरीखरगवां उत्तम दुबे के विरुद्ध वायरल वीडियो में किसान से पैसे मांगे जाने का आरोप लगाया गया था। जिसकी जांच में किसान द्वारा पैसे मांगने पर इंकार किया गया। जांच के दौरान किसान की तौल अकारण विलंब करना पाये जाने पर उपार्जन केन्द्र प्रभारी को उसके प्रभार से हटा दिया गया है।

कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने बताया कि इस बार जिलेभर में धान की खरीदी मानकों के अनुसार गुणवत्ता के साथ की गई है। गड़बड़ी पर एफआइआर से लेकर अन्य त्वरित कार्रवाई की गई है। आगे भी कार्रवाई की जा रही है। अब मिलर्स यह नहीं कह पाएंगे कि खराब धान खरीदी के कारण चावल की गुणवत्ता पर असर पड़ रहा है।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned