1875 घनमीटर मुरूम के अवैध खनन पर दिनभर चलती रही जांच, शाम तक थाने नहीं पहुंंची जेसीबी

मुरूम के अवैध खनन पर सबूत तलाशते रहे खनिज और पुलिस विभाग के अधिकारी, कार्रवाई पर उठे सवाल.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 18 Jan 2021, 11:34 PM IST

कटनी. माधवनगर थानाक्षेत्र अंतर्गत छहरी तालाब के आसपास क्षेत्र में बीते कई दिनों से मुरूम का अवैध खनन चल रहा है। इसकी शिकायत रविवार को कलेक्टर प्रियंक मिश्रा तक पहुंची। कलेक्टर के निर्देश पर पुलिस और खनिज विभाग का अमला मौके पर पहुंचता इससे पहले ही खनन में लिप्त हाइवा वाहन और जेसीबी को मौके से हटाने के प्रयास तेज हो गए। इस बीच खनन स्थल से कुछ ही दूरी पर जेसीबी मिल गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इसी जेसीबी से मुरूम का अवैध खनन किया जा रहा था।

खासबात यह है कि मुरूम के अवैध खनन की शिकायत कलेक्टर से होने के बाद भी मौके पर मिली जेसीबी शाम तक माधवनगर थाने नहीं पहुंची। खनिज निरीक्षक सतीश मिश्रा ने बताया कि छहरी तालाब के पास 1875 घनमीटर मुरूम का अवैध खनन हुआ है। इधर, शाम तक जेसीबी के थाने नहीं पहुंचने के बाद इस पूरे मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं।

कलेक्टर से शिकायत करने वाले ओमप्रकाश तिवारी ने बताया कि इस मामले में पुलिस खनन करने वालो के इशारे पर काम कर रही है। मारपीट का आरोप लगाकर उल्टे फंसाया जा रहा है। मुरूम के अवैध खनन में शिकायत और सूचना के काफी देर बाद पुलिस और खनिज विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। इस पूरे मामले की जांच दिनभर चलती रही, लेकिन निष्कर्ष पर नहीं पहुंचा।

खनिज निरीक्षक सतीश मिश्रा ने बताया कि ओमप्रकाश तिवारी द्वारा कलेक्टर को शिकायत की गई थी कि छहरी तालाब में मुरम का अवैध खनन किया गया है। जांच के दौरान ग्राम भडऱा के पास जेसीबी मिली। चालक भाग गया है। मौके की जांच कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। प्रकरण कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

माधवनगर थाना प्रभारी संजय दुबे के अनुसार अवैध खनन व परिवहन की सूचना पर मौके पर अमला भेजा गया। जेसीबी चालक ने मारपीट का आरोप लगाया है, जिसकी जांच कर रहे हैं। जेसीबी भडऱा गांव के पास मिली है। खनन की जांच खनिज विभाग कर रहा है।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned