जिले में तीन समूह बनाकर होगी रेत की नीलामी, एक माह में शुरु होगी प्रक्रिया

जिले में तीन समूह बनाकर होगी रेत की नीलामी, एक माह में शुरु होगी प्रक्रिया
ढीमरखेड़ा के दतला नदी में भरी बरसात नदी से निकाली जा रही रेत.

raghavendra chaturvedi | Updated: 09 Oct 2019, 07:55:33 PM (IST) Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

प्रदेश सरकार की नई रेत नीति के आधार पर होगी रेत नीलामी

कटनी. प्रदेश सरकार की नई रेत नीति के बाद अब रेत खदानों की नीलामी समूह बनाकर होगी। इसके लिए कटनी जिले में अलग-अलग खदानों को तीन समूहों में बांटा गया है। बड़वारा, बरही और विजयराघवगढ़ नाम से बनी समूहों में कछडारी, बसाड़ी, सुड्डी, गुढ़ाखुर्द, चाका, सुड्डी, परसवााराकलां, सांघी, बसाड़ी, धनिया, रीठी और घुनौर की रेत शामिल हैं। इन रेत खदानों को अलग-अलग समूह में विभाजित कर नीलामी प्रक्रिया के लिए प्रस्ताव उच्चाधिकारियों को भेजी गई है।

प्रस्ताव के अनुसार मध्यप्रदेश राज्य खनिज निगम ऑनलाइन (माइनिंग कार्पोरेशन) के माध्यम से आगे की प्रक्रिया संचालित होगी। बताया जा रहा है कि रेत खदानों को समूहों के माध्यम से नीलामी करने का निर्णय प्रदेशभर से मिले सुझाव के आधार पर किया गया है। नई रेत नीति के अनुसार जिन ग्राम पंचायतों में खदानें हैं, स्थानीय विकास की राशि उस गांव को पहले प्राप्त होगी। डीएमएफ अंतर्गत स्थानीय विकास की राशि प्राप्त होगी।

कुम्हार और परम्परागत स्थानीय शिल्पकारों को पूर्व की भांति छूट रहेगी। स्थानीय निवासियों को रोजगार देना अनिवार्य होगा। मशीनों से खनन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। इधर सभी प्रकार के भंडारण लाइसेंस निरस्त कर दिए गए हैं।

ठेकेदारों द्वारा अपने-अपने भंडार की जानकारी जिला कलेक्टर को दिए जाने के बाद और उसका सत्यापन होने के बाद कलेक्टर भंडारण को खाली करने की अनुमति एवं समय-सीमा देंगे।

इस संबंध में प्रभारी खनिज अधिकारी संंतोष सिंह बताते हैं कि समूह बनाकर रेत खदान नीलामी में दो माह का समय लग सकता है। इस बीच प्रदेश में रेत की आपूर्ति बनी रहे इसके लिए नियमों में व्यापक प्रावधान किए गए हैं। जिन ठेकेदारों के पास पुरानी नीलामी प्रक्रिया के अंतर्गत मार्च, 2020 अथवा उसके बाद के अनुबंध है, वे भी अपनी निर्धारित अनुबंध अवधि तक खनन प्रक्रिया जारी रख सकेंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned