जिला अस्पताल में अब मुफ्त में नही होगी सोनोग्र्राफी, एक्सरे व इसीजी जांच

जिला अस्पताल में अब मुफ्त में नही होगी सोनोग्र्राफी, एक्सरे व इसीजी जांच
जिला अस्पताल।

Dharmendra Pandey | Updated: 14 Sep 2019, 11:25:00 AM (IST) Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

-जिला अस्पताल में अब नि:शुल्क नहीं होगी सोनोग्राफी, रोकस की बैठक मरीजों को देना होगा सौ रुपये का शुल्क

-एक्सरे व इसीजी की भी क्रमश: 50 व 30 रुपये लगेगी फीस, शुल्क लगाने को लेकर जिला अस्पताल प्रबंधन ने की तैयारी

 

धर्मेंद्र पांडे.कटनी. जिला अस्पताल में सोनोग्राफी, इसीजी व एक्सरे की जांच की सुविधा अब नि:शुल्क नहीं होगी। 16 सितंबर को होने वाली रोगी कल्याण समिति (रोकस) की बैठक में जिला अस्पताल प्रबंधन के प्रस्ताव को अमल में लाया गया तो इन तीनों ही जांच के लिए मरीजों को शुल्क देना होगा। रोकस की बैठक में इन जांच के लिए अस्पताल प्रबंधन ने जो प्रस्ताव तैयार किया है, उसके अनुसार सोनोग्राफी का सौ रुपये तो एक्स-रे का पचास और इसीजी का शुल्क तीस रुपये होगा।
खासबात यह है कि अस्पताल प्रबंधन ने इन तीनों ही जांच पर शुल्क लगाने की तैयारी बहुत पहले ही कर ली थी। इसके लिए अस्पताल के अफसरों को रोगी कल्याण समिति की बैठक का इंतजार था। 16 सितंबर को जिला अस्पताल में होने वाली रोगी कल्याण समिति की बैठक 17 माह बाद होगी। इससे पहले यह बैठक 9 अप्रैल 2018 को बैठक हुई थी।

इन प्रस्तावों पर भी होगी चर्चा
-रोगी कल्याण समिति के कार्यकारिणी की बैठक में अस्पताल प्रबंधन एंबुलेंस का किराया बढ़ाने की तैयारी में है। वर्तमान में नगर निगम क्षेत्र के 10किमी दायरे में एंबुलेंस चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराता है तो उसका 500 रुपये लेता है। एंबुलेंस यदि इस दायरे से बाहर जाती है तो 500 रुपए अतिरिक्त सहयोग राशि लेता है लेकिन बैइक के बाद ऐसा नहीं होगा। 10 किमी से अधिक दूरी होने पर 10 रुपये प्रति किलोमीटर किराया लिया जाएगा।
-मेटरनिटी वार्ड परिसर व ओटी की दीवार, छत का सुधार कार्य व पुताई का भी प्रस्ताव रखेगा।
-रेडक्रास सोसायटी द्वारा रोगी कल्याण समिति मद को दी गई डायलिसिस मशीन के रख रखाव में लगने वाले खर्च को रोगी कल्याण समिति से किए जाने पर भी चर्चा की जाएगी।
-बैठक में लांड्री के विस्तार का भी प्रस्ताव रखा जाएगा। इसके तहत 50 हजार रुपये की लागत से स्पेज रूम, सारे परिसर में 160000 रुपये से टाइल्स वॉल व 40000 रुपये से चार स्थानों पर रेन वॉटर हॉरवेस्टिंग सिस्टम बनाने का भी प्रस्ताव रखा जाएगा।
-जिला अस्पताल परिसर में मरीजों के परिजनों को वार्डों में बैठने के लिए स्टूल, वार्डो के बाहर बैठने के लिए 3 सीटर चेयर व ऑर्थोपेटिक, मेडिसिन व पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड के लिए 60 पलंग खरीदे जाने का प्रस्ताव रखा जाएगा।

शुल्क लगाने के बाद सुविधाओं में विस्तार की बात
अस्पताल प्रबंधन के अफसरों का कहना है कि सोनोग्राफी, एक्स-रे और इसीजी में लगने वाले शुल्क जो आय होगा उस राशि का उपयोग यहां इलाज के लिए आने वाले मरीजों की सुविधाओं के विस्तार पर किया जाएगा।

वर्तमान में यह लगता हैं शुल्क:
विभाग शुल्क
ओपीडी 10 रुपये।
आइपीडी 50 रुपये।
पेंइग वार्ड 200 रुपये।
आइसीयू 500 रुपये।
डायलिसिस 500 रुपये।

-रोगी कल्याण समिति के कार्यकारिणी की बैठक में कई प्रस्ताव रखे जाएंगे। जो तैयार कर लिए गए है। सोनोग्राफी, इसीजी व एक्सरे की जांच कराने आए मरीजों से शुल्क लिए जाने का भी प्रस्ताव रखा जाएगा।
डॉ. एसके शर्मा, सिविल सर्जन।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned