जब टीएल बैठक में मोबाइल देख रहे अधिकारियों को कलेक्टर ने लगाई फटकार

जब टीएल बैठक में मोबाइल देख रहे अधिकारियों को कलेक्टर ने लगाई फटकार
जब टीएल बैठक में मोबाइल देख रहे अधिकारियों को कलेक्टर ने लगाई फटकार

raghavendra chaturvedi | Updated: 12 Jun 2019, 05:18:11 PM (IST) Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर कटनी एसबी सिंह ने कहा कि मीटिंग के दौरान अधिकारी योजनाओं के क्रियान्वयन पर बात करें। मोबाइल देखने से लेकर दूसरे काम मीटिंग के बाद भी की जा सकती है। दरअसल एक दिन पहले कलेक्टर जब जिला अस्पताल के निरीक्षण पर गए तो डॉक्टरों को समझाइश दिए जाने के दौरान एसडीएम मोबाइल में व्यस्त रहे। यह तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हुई और लोग यह कहते सुने गए एसडीएम उच्चाधिकारियों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

कटनी. समय सीमा की बैठक में मोबाइल देख रहे अधिकारियों को कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने फटकार लगाई। कलेक्टर ने दो अधिकारियों से कहा कि बैठक में आमजनों से जुड़ी जरुरी योजनाओं की समीक्षा के बाद मोबाइल देखें। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में त्वरित रुप से कार्यवाही करते हुये समय-सीमा मे संतुष्टिपूर्ण निराकरण की बात कही। बैठक में कलेक्टर ने आदर्श आचरण संहिता के दौरान नहीं किये जा सकने वाले खाद्य विभाग की पात्रता पची और अन्य विभागों की हितग्राही मूलक योजनाओं के हित लाभ के सभी प्रकरण एक सप्ताह के भीतर निराकृत करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

यह भी रोचक:

Patrika .com/katni-news/enthusiastic-prize-for-changing-trains-engine-4687166/">ट्रेनों का इंजन बदलने में फुर्ती ने दिलाया ईनाम, कर्मचारियों ने कहा अच्छी पहल

 

यहां बनेगा देश का दूसरा सबसे बड़ा रेल फ्लाईओवर, नीचे पटरी पर यात्री ट्रेन और उपर दौड़ेगी मालगाड़ी

 

भीषण गर्मी में आसान नहीं ठंडा पानी बेचना, वीडियो में देखिए किन चुनौतियों का सामना करते हैं वेंडर

चर्चा करते कलेक्टर और मोबाइल में व्यस्त अधिकारी
जिला अस्पताल में दस्तक अभियान की समीक्षा के दौरान चर्चा करते कलेक्टर और मोबाइल में व्यस्त अधिकारी IMAGE CREDIT: Raghavendra

टीएल बैठक से एक दिन पहले कलेक्टर जिला अस्पताल के निरीक्षण पर पहुंचे थे। निरीक्षण उपरांत दस्तक अभियान को लेकर आयोजित बैठक में डॉक्टरों को समझाइश दे रहे थे, तभी एसडीएम बलबीर रमन मोबाइल पर व्यस्त रहे। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई। लोगों ने कहा अधिकारी उच्चाधिकारियों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।
इधर टीएल बैठक में पेयजल संबंधी शिकायतों का तत्काल निराकरण करना सुनिश्चित करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। उन्होंने नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की व्यवस्था सुदृढ़ रखने और लोकसेवा गारंटी के समय सीमा बाह्य प्रकरणों की समीक्षा करते हुये कलेक्टर ने स्पष्ट किया कि प्रकरणों का निराकरण निर्धारित समय सीमा में करें अन्यथा दंड अधिरोपित करने की कार्यवाही की जायेगी।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned