गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ी, सारी वार्ड फुल, फिर नए 28 मरीजों की रिपोर्ट आई पॉजीटिव

निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद फिर तीन मरीजों हुई मौत, चौथी मंजिल पर भी शुरू किया आयसोलेशन वार्ड

खंडवा. कोविड अस्पताल के तीनों वार्डों में गंभीर मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसके साथ ही निगेटिव होने के बाद भी गंभीर मरीजों की मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। शुक्रवार को पांच निगेटिव मरीजों की मौत हुई थी। शनिवार को फिर तीन गंभीर मरीजों की मौत हो गई। तीनों मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव थी, लेकिन हालत बेहद गंभीर होने के बाद ऑक्सीजन पर रखा हुआ था।
वहीं, शनिवार को एक बार फिर 28 मरीजों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिसमें से तीन की हालत गंभीर होने से कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया है। कोविड अस्पताल के तीनों वार्डों में मौतों का सिलसिला जारी है। शनिवार सुबह हरसूद निवासी 54 वर्षीय मरीज की मौत हो गई। उन्हें 22 मार्च को भर्ती किया गया था और रिपोर्ट निगेटिव आई थी। शाम को बुरहानपुर के शिकारपुरा निवासी 76 वर्षीय मरीज की भी मौत हो गई। वे 23 मार्च से भर्ती थी और उनकी भी रिपोर्ट निगेटिव थी। इसके बाद रात 8 बजे बुरहानपुर के दरियापुर निवासी 81 वर्षीय बुजुर्ग की मौत आयसोलेशन वार्ड में हुई। उन्हें 1 अप्रैल को ही गंभीर हालत में लाया गया था, लेकिन उनकी कोविड की रिपोर्ट निगेटिव थी। उल्लेखनीय है कि एक माह में सारी, डीसीएच और आयसोलेशन वार्ड में निगेटिव रिपोर्ट वाले मरीजों की ये 19वीं मौत है।
शनिवार को कुल 28 मरीजों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिला महामारी विशेषज्ञ डॉ. योगेश शर्मा ने बताया कि शनिवार को 480 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव भी आई है। अब कुल 2876 मरीज कोरोना के हो चुके है। पिछले 24 घंटे में 27 मरीजों को ठीक होने पर डिस्चार्ज भी किया गया है। अब कुल 2627 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। वर्तमान में कुल 182 एक्टिव केस जिले में है। वहीं, 67 मरीजों की मौत कोरोना से हो चुकी है। डॉ. शर्मा ने बताया कि सैंपलिंग की संख्या भी बढ़ाई गई है। शनिवार को कुल 545 लोगों के सैंपल लिए गए हैं।
नया वार्ड भी आरंभ करना पड़ा
कोविड अस्पताल में लगातार गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिसमें संदिग्ध मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है। डीसीएच प्रभारी डॉ. सुनील बाजोलिया ने बताया कि वर्तमान में कुल 85 मरीज कोविड अस्पताल में भर्ती है। जिसमें 36 सारी वार्ड, 24 आइसीयू और 24 डीसीएच में भर्ती है। इसमें 9 की हालत गंभीर है, जिन्हें बायपेप और हाई नेजुल केनुला पर रखा गया है। मरीजों की संख्या बढऩे के कारण चौथी मंजिल पर एक वार्ड और आरंभ किया गया है।

अजय पालीवाल
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned