ये 4 छात्रों ने लिया ब्लू व्हेल गेम का चैलेंज, फिर क्या हुआ एेसा कि....

sanjay dubey

Publish: Sep, 17 2017 11:25:39 AM (IST)

Khandwa, Madhya Pradesh, India
ये 4 छात्रों ने लिया ब्लू व्हेल गेम का चैलेंज, फिर क्या हुआ एेसा कि....

मध्यप्रदेश के खंडवा में सोफिया कॉन्वेंट स्कूल के चार छात्रों के हाथो में ब्लू व्हेल गेम की तरह कट के निशान दिखे। तत्काल पेरेंट्स बच्चों की काउंसिलिंग

खंडवा. प्रदेश सरकार ने सरकारी और निजी स्कूलों में विद्यार्थियों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं। इसी के चलते खंडवा की सोफिया कॉन्वेंट स्कूल के चार छात्रों के हाथों में ब्लू व्हेल गेम की तरह कटे हुए निशान दिखाई दिए। जिसके बाद स्कूल में हड़कंप मच गया।
कॉन्वेंट स्कूल प्रबंधन ने तत्काल चारों के विद्यार्थियों के माता-पिता को बुलाया और उन्हें समझाइश दी कि बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखे। वहीं बच्चों की काउंसिलिंग की। वहीं माता पिता से लिखित में लिया है कि एेसी घटना के बाद स्कूल प्रबंधन ने हमें बुलाया और समझाइश दी है। यदि समय रहते स्कूल प्रबंधन इस पर नजर नहीं रखता तो कुछ भी हो सकता था। हालांकि बच्चों के हाथों पर कट के निशान की कई वजह पैरेंट्स बता रहे हैं।

सॉरी मेम, नहीं करेंगे एेसा
घटना के बाद स्कूल प्रबंधन ने सख्ती दिखाते हुए विद्यार्थियों को जमकर फटकार लगाई। हालांकि विद्यार्थियों ने स्कूल को लिखित में माफीनामा लिखकर दिया है कि दोबारा एेसी गलती नहीं करेंगे। पैरेंट्स व स्कूल स्टॉफ ये पता लगाने में लगा है कि आखिर ये हाथों पर कट के निशान कैसे और क्यों बनाए गए।

स्कूल में हाईअलर्ट, हर बच्चे पर नजर
प्राचार्य सिस्टर प्रिया के मुताबिक हाथ पर कटने के निशान होने की सूचना शिक्षक ने दी। चारो विद्यार्थियों को बुलाकर काउंसिलिंग की। अभिभावकों को भी समझाया। बच्चों ने माफी भी मांगी है। स्कूल में सभी बच्चों पर रोज नजर रखी जाती है ताकि वे अपना ध्यान पढ़ाई पर केंद्रित रखें। गलत राह पर न जाएं। ब्लू व्हेल गेम का खतरा बढऩे के बाद स्कूल स्टाफ ने निगरानी बढ़ा दी है। प्रार्थना के दौरान विद्यार्थियों के हाव भावों को परखा जाता है ताकि विद्यार्थियों को कोई समस्या होने पर तुरंत समाधान किया जा सके। पैरेंट्स व स्कूल स्टॉफ ये पता लगाने में लगा है कि आखिर ये हाथों पर कट के निशान कैसे और क्यों बनाए गए।

1
Ad Block is Banned