किशनगढ़ में होगा आर्यिका विज्ञाश्री का चातुर्मास

किशनगढ़ में होगा आर्यिका विज्ञाश्री का चातुर्मास

Kali Charan kumar | Publish: Jun, 24 2019 12:15:51 PM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

धूमधाम से मनाया चातुर्मास उद्घोषणा महोत्सव
पूजन किया, निकाला जुलूस

मदनगंज-किशनगढ़. मुनिसुव्रतनाथ दिगंबर जैन पंचायत एवं सकल दिगंबर जैन समाज के संयुक्त तत्वावधान और आर्यिका विज्ञाश्री के सानिध्य में रविवार को सूरजदेवी पाटनी सभागृह में चातुर्मास उद्घोषणा महोत्सव धूमधाम से मनाया गया। इसके तहत सुबह श्रीजी का अभिषेक और शांतिधारा की गई। इसके बाद नित्य नियम पूजन किया गया। आचार्य धर्मसागर पाठशाला टोंक के बच्चों ने बैंड वादन की प्रस्तुति दी और आदिनाथ कॉलोनी से जुलूस भी निकाला गया। यह जुलूस मु?य मार्गो से निकलते हुए वापस मंदिर पर संपन्न हुआ। जुलूस में बच्चे अहिंसा व जियो और जीने दो का संदेश लगी त?ितयां और नारे लगाते चल रहे थे। जुलूस में आचार्य विद्यासागर पाठशाला, आचार्य धर्मसागर पाठशाला टोंक और मुनि सुधासागर प्राकृत पाठशाला किशनगढ के बच्चो के साथ किशनगढ़, टोंक एवं जयपुर के श्रद्धालु शामिल हुए। इसके बाद सूरजदेवी पाटनी सभागृह में आर्यिका विज्ञाश्री ससंघ के सानिध्य में चातुर्मास उद्घोषणा महोत्सव का शुभारंभ किया गया। महोत्सव का शुभारंभ आरके परिवार के कंवरलाल पाटनी, विवेक विहार जैन समाज अध्यक्ष भागचंद पाटनी, मंत्री पदमचंद पाटनी, टोंक जैन समाज से रमेश जैन, पंडि़त राजीव शास्त्री, मुनिसुव्रतनाथ पंचायत अध्यक्ष विनोद पाटनी, मंत्री सुभाष बडज़ात्या, आदिनाथ पंचायत अध्यक्ष प्रकाश गंगवाल, मंत्री कैलाश पहाडिय़ा ने चित्र अनावरण एवं दीप प्रज्वलन कर किया। कार्यक्रम में मंगलाचरण रूचि दीदी एवं मंच संचालन अजित बाकलीवाल ने किया। पाठशाला के बच्चों ने भक्ति नृत्य प्रस्तुत किया।
आर्यिका को किया शास्त्र भेंट
आर्यिका विज्ञाश्री को शास्त्र भेंट करने का सौभाग्य मिलापचंद, भागचंद गोयल, पवन, देवास बडज़ात्या, शांतिलाल, देवेंद्र झांझरी, राजकीय यज्ञनारायण चिकित्सालय के पीएमओ डॉ. अशोक जैन, नेमीचंद, राजकुमार पाटनी एवं विवेक विहार जयपुर एवं टोंक जैन समाज को मिला। आर्यिका विज्ञाश्री को जयपुर, टोंक, 8 गांव पंचायत एवं सकल दिगंबर जैन समाज किशनगढ़ ने चातुर्मास के लिए श्रीफल भेंट किया और समाज के अध्यक्ष एवं मंत्री ने उद्घोषणा देते हुए चातुर्मास के लिए निवेदन किया। इस पर संजय पापड़ीवाल, कन्हैयालाल बडज़ात्या, मोहनलाल पाटनी, दिलीप कासलीवाल, चेतनप्रकाश पांड्या, मदनलाल सेठी, अशोक पाटनी, सुशील गंगवाल, विनय झांझरी, सुशील काला, महावीर बडज़ात्या, विजय गंगवाल, माणकचंद गंगवाल, कैलाश पाटनी, दिनेश पाटनी, महावीर कटारिया, प्राणेश बज, प्रकाश गोधा, सुरेश बगड़ा, अनिल दातरी, अनिल पाटनी, पदम गंगवाल, प्रवीण छाबड़ा, संजय जैन समेत अन्य श्रद्धालु शामिल रहे।
चातुर्मास साधना का पर्व
आर्यिका विज्ञाश्री ने मंगल आशीर्वाद देते हुए कहा कि चातुर्मास साधना का पर्व होता है। चातुर्मास के दौरान प्रभु की भक्ति और अहिंसा धर्म का पालन करने के साथ आत्म कल्याण करने के लिए साधु संत चातुर्मास करते हैं। चातुर्मास में संतों के साथ श्रावकों को भी धर्म, पुण्य कमाने के साथ मोक्ष मार्ग पर अग्रसर होने का अवसर मिलता है। आर्यिका ने विभिन्न जगहों के समाजों की ओर से चातुर्मास के लिए श्रीफल भेंट करने पर मंगल आशीर्वाद दिया और उन्होंने चातुर्मास किशनगढ़ में करने की घोषणा की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned