बंगाल के 9 जिलों में 10768 बूथ संवेदनशील घोषित

बंगाल के 9 जिलों में 10768 बूथ संवेदनशील घोषित

Ashutosh Kumar Singh | Publish: Mar, 17 2019 02:53:32 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 02:53:33 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

- बाकी जिलों के संवेदनशील बूथों की सूची बनाने में जुटा निर्वाचन आयोग
- 10 कंपनी अद्र्ध सैनिक बल के जवान पहुंचे बंगाल

- 125 कंपनी अद्र्ध सैनिक बल के जवानों की जाएगी तैनाती

कोलकाता

पश्चिम बंगाल के 9 जिलों में 10768 बूथों को संवेदनशील बूथ घोषित किया है। सबसे अधिक संवेदनशील बूथ 2357 दक्षिण 24 परगना जिले में हैं। राज्य के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी संजय बसु ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दक्षिण २४ परगना जिले में 2357, बीरभूम जिले के 1556, बर्दवान के 1289, उत्तर दिनाजपुर के 657, मालदा के 1220, मुर्शिदाबाद के 1197, कूचबिहार के 50३, हुगली के 1008 और उत्तर 24 परगना के 981 मतदान मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया गया है और इन क्षेत्रों में बीएसएफ के जवानों की तैनाती की जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में संवेदनशील बूथों की वास्तविक संख्या की रिपोर्ट तैयार की जा रही है। यह और अधिक बढऩे की संभावना है। नई रिपोर्ट के अनुसार और अधिक जवानों की तैनाती होगी। अभी और अधिक संख्या में केंद्रीय जवान बंगाल आएंगे।
बसु ने कहा कि राज्य में अद्र्ध सैनिक बल की 10 कंपनियां पहुंच गई है। उन्होंने संवेदनशील जिलों में तैनात किया जा रहा है। वे वहां रूट मार्च शुरू करेंगे। सीमावर्ती जिलों में कुछ जगहों पर रूट मार्च शुरू कर दिया गया है। 11 अप्रैल को मतदान की शुरुआत होने से पहले धीरे-धीरे सेंट्रल फोर्स की टुकडिय़ा बंगाल आती रहेंगी। लोकसभा चुनाव में शांतिपूर्वक मतदान और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्य में कम से कम 125 कंपनी अर्धसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned