सुर्खियां बटोर रहे बंगाल में पहले चरण के मतदान का यज्ञ आज

विधानसभा चुनाव: 5 जिलों की 30 सीटों के लिए डाले जाएंगे वोट, 73,80,942 मतदाता करेंगे 191 उ्मीदवारों के भाग्य का फैसला



By: MOHIT SHARMA

Published: 27 Mar 2021, 12:22 AM IST

कोलकाता. चार राज्यों तथा एक केंद्र शासित राज्य में सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोर रहे पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले चरण के तहत शनिवार को पांच जिलों की 30 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। ये
सभी सीटें माओवाद प्रभावित बांकुड़ा, पुरुलिया, झाडग़्राम, पश्चिम मिदनापुर और पूर्व मिदनापुर जिले की हैं। इन क्षेत्रों को एक समय वाम दलों के प्रभाव वाला माना जाता था।
इस बार मुख्य मुकाबला सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और भाजपा (बीजेपी) के बीच नजर आ रहा है। कांग्रेस तथा वामदल अपने पैरों पर फिर खड़े होने की कोशिश कर रहे हैं। बीते 10 वर्षों से ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस फिर सत्ता में बने रहने के लिए मैदान में है तो बीजेपी ने भी सत्ता में आने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है।
एक तरफ जहां राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लगातार बीजपी पर हमलावर है तो वहीं दूसरी तरफ पहली बार राज्य की सत्ता में आने का दंभ भर रही भगवा पार्टी ने पूरे ब्रिगेड को चुनावी मैदान में उतार दिया है।
सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख प्रतिद्वंद्वी बनकर उभरती दिख रही भाजपा के बड़े नेताओं ने पुरुलिया, झाडग़्राम और बांकुड़ जिलों में रैलियों को संबोधित किया और सोनार बांग्ला बनाने के लिए वास्तविक बदलाव लाने का वादा किया। चुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी और टीएमसी से बीच खूब सियासी हमले देखे गए।
पहले चरण में चुनाव लड़ रहे 191 में से 19 उम्मीदवार करोड़पति हैं। वहीं 2 उम्मीदवार ऐसे भी हैं जिनकी कुल संपत्ति 500 रुपए बताई गई है। 73,80,942 मतदाता 191 उ्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला करेंगे।

हिंसा की आशंका, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
हिं सा की आशंका के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। 684 कंपनी अद्र्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई हैं। चुनाव आयोग ने माओवादियों का गढ़ मानेजाने वाले झाडग़्राम जिले में सभी बूथों पार केंद्रीय अद्र्ध सैनिक बल के 11 जवानों की तैनाती का निर्णय किया है। बूथों पर औसतन 6 जवानों की तैनाती की गई है। मतदान सुबह 7 बजे से शुरू होकर शाम 6.30 बजे तक चलेगा। आयोग ने कोविड-19
प्रतिबंधों के मद्देनजर मतदान का समय 30 मिनट बढ़ाया है।

बदले हुए हालात में चुनाव
पहले चरण के तहत जिन 30 सीटों पार शनिवार को वोट डाले जाएंगे उन में से अधिकांश सीटों पर पिछले
चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के उ्मीदवारों ने बाजी मारी थी। 27 सीटों पार तृणमूल कांग्रेस, 2 सीटों पर कांग्रेस
और एक पार अन्य पार्टी के उ्मीदवार ने जीत दर्ज की थी। भाजपा को एक भी सीट नहीं मिली थी। हालांकि
भाजपा ने करिश्मा करते हुए 2019 के लोकसभा चुनाव में राज्य की कुल 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर शानदार जीत दर्ज की, जो सत्ताधारी टीएमसी से सिर्फ 4 सीटें कम थी। बीजेपी ने यहां पर 200 से ज्यादा विधानसभा सीटों पर जीत का लक्ष्य बना रखा है। इस बार बदले हुए राजनीतिक हालात में चुनाव हो रहे हैं।

MOHIT SHARMA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned