कोरोना से सागरदत्त मेडिकल कॉलेज की अधीक्षक डॉ हसी दासगुप्ता की मौत

- राज्य चिकित्सा जगत में शोक, मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
- एक दिन में कोरोना से गई 3 डॉक्टरों की जान

By: Renu Singh

Published: 04 Dec 2020, 11:17 PM IST

कोलकाता
उत्तर २४ परगना के सागरदत्त मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल की प्रिंसिपल डॉक्टर हसी दास गुप्ता की मौत कोरोना से गुरूवार हो गई। वे कोविड के संक्रमण के कारण गंभीर रूप से ली बीमार थी। उन्हें कोलकाता मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था। उनके निधन से राज्य चिकित्सा जगत में शोक की लहर है। कोरोना वायरस की जंग में फ्रंटलाइनर के रूप में तैनात हसी दास गुप्ता के निधन से एक बड़ी क्षति पहुंची है। वह कोलकाता मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल व नीलरतन सरकार मेडिकल कॉलेज में भी मेडिकल सुपर के रूप में अपनी सेवा दे चुकी थीं।

शरीर में अॉक्सीजन की मात्रा हुई कम
सूत्रों के अनुसार, कोरोना के लक्षण प्रिंसिपल हसी दासगुप्ता और उनके पति में भी मौजूद थे। दोनों की परीक्षण रिपोर्ट सोमवार को सकारात्मक आई। तब वे पहली बार क्वांरटाइन में थे। लेकिन सागर दत्त मेडिकल प्रिंसिपल हसी दासगुप्ता को खराब शारीरिक स्थिति के कारण मंगलवार को कलकत्ता मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। ऑक्सीजन का स्तर काफी कम है। गुरुवार को उनकी मृत्यु हो गई।

मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य के सरकारी अस्पताल की चिकित्सक डॉक्टर हसी दासगुप्ता की मौत की खबर सुनकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना से जंग हारने वाले डॉ हसी दासगुप्ता की मौत के बारे में सुनकर दुख हुआ। वह कॉलेज ऑफ मेडिसिन एंड सागर दत्ता अस्पताल के प्रिंसिपल के रूप में सेवारत थीं। उनके योगदान के लिए हम उनके आभारी हैं। मेरी प्रार्थनाएं इस कठिन समय में उसके परिवार के साथ हैं।

Renu Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned