JANMASHTMI: कहीं कृष्ण की बाल लीला, तो कहीं झांकियों से आज जगमगाएगा कोलकाता

JANMASHTMI: कहीं कृष्ण की बाल लीला, तो कहीं झांकियों से आज जगमगाएगा कोलकाता
JANMASHTMI: कहीं कृष्ण की बाल लीला, तो कहीं झांकियों से आज जगमगाएगा कोलकाता

Shishir Sharan Rahi | Updated: 23 Aug 2019, 04:06:41 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

जन्माष्टमी आज और कल भी--पूर्व संध्या पर श्रद्धालुओं ने की जमकर खरीददारी--अष्टम तिथि के अनुसार आज रोहिणी नक्षत्र से 24 को मनेगी जनमाष्टमी

कोलकाता. सृष्टि के पालनहार विष्णु के 8वें अवतार कृष्ण जन्मोत्सव के रूप में जन्माष्टमी त्योहार इस बार 2 दिन 23 और 24 अगस्त को महानगर सहित पूरे प्रदेश में हर्षोल्लास से मनाया जाएगा। विभिन्न संस्थाएं इसे अलग-अलग तरीके से मनाएंगी। कहीं कृष्ण की बाल लीला का मंचन-झूले होंगे, तो कहीं कान्हा की आकर्षक झांकियां सजेंगी। रक्षाबंधन के बाद भाद्रपद माह कृष्ण पक्ष की अष्टम तिथि को मनाए जाने वाले जन्माष्टमी के इस बार 2 दिन होने पर उलझन है। दरअसल यह मान्यता है कि कृष्ण का जन्म भादो माह की कृष्ण पक्ष अष्टम तिथि को रोहिणी नक्षत्र में हुआ था इसलिए अष्टम तिथि के अनुसार २३ को और अगर रोहिणी नक्षत्र को मानें तो २४ अगस्त को मनेगी जनमाष्टमी। इस संबंध में श्रीराधे पंचांग के सम्पादक पं. मनीष पुरोहित ने पत्रिका से खास बातचीत में गुरुवार शाम को बताया कि 23 अगस्त को सूर्योदय से सप्तमी सुबह ८.०८ के उपरान्त अष्टमी तिथि है जो अर्धरात्रि के समय भी रहेगी। अर्थात् दिन-रात्रि की घड़ी में यदि रोहिणी नक्षत्र न हो तो चन्द्रोदय के समय वर्तमान रात्रि की अष्टमी को जन्माष्टमी का व्रत होगा। स्मार्त मत के अनुसार उस दिन रात्रि में केवल अष्टमी तिथि ग्राह्य होने से कुछ लोग जन्माष्टमी 23 अगस्त को मनाएंगे, जबकि निर्णय सिन्धु के अनुसार सूर्योदय से युक्त अष्टमी संग नवमी तिथि को जन्माष्टमी मान्य करनी चाहिए। अष्टमी युक्त नवमी ग्राह्य है, परन्तु; सप्तमी युक्त अष्टमी नहीं। ब्रह्मवैवर्त पुराण के कृष्ण का प्राकट्य भादो कृष्णपक्ष, रोहिणी नक्षत्र, वृष राशि के चन्द्र तथा सिंह राशि के सूर्य आदि में हुआ। २४ अगस्त को सूर्योदय से लगभग 8.31 तक अष्टमी, तदोपरान्त नवमी है तथा ब्रह्मवैवर्तपुराण के अनुसार यह योग भी बन रहा। सूर्योदय के समय वृष के चन्द्रमा हैं, जो रात 12 बजे भी रहेंगे तथा सिंह के सूर्य और अर्धरात्रि में रोहिणी नक्षत्र का भी सुयोग है, इसलिए २४ अगस्त को अर्धरात्रि में कृष्ण प्राकट्योत्सव मनाना चाहिए।

-----उधर महिलाओं ने गोपी नृत्य से बांधा समां

इस बीच जन्माष्टमी की पूर्व संध्या पर हावड़ा के लिलुआ स्थित अग्रसेन भवन में बुधवार को पश्चिम बंग प्रादेशिक महिला समिति और निर्मल गंगा चेतना मंच के संयुक्त आयोजन में रंगारंग कार्यक्रम आयोजित हुआ। रंगबिरंगी पोशाकों ंमें सुसज्जित-श्रृंगारित महिलाओं ने फिल्मी धुनों पर आधारित एक से बढक़र एक आकर्षक नृत्य से समां बांधा। कार्यक्रम के जरिए अनेकता में एकता का संदेश देते हुए कन्हैया, गोपी डांस सहित विविध मनोरंजक कार्यक्रम हुए। निर्मल गंगा चेतना मंच की अध्यक्ष कुसुम मोदी, मंच की महासचिव नीलिमा सिन्हा और शशि केसान के सान्निध्य में हुए आयोजन में कुसुम मौर्या, शशि अग्रवाल, अंशू जोशी, वार्ड १७ पार्षद अनिता सिंह, हावड़ा भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष दुर्गावती सिंह, इंदू त्रिपाठी, आशादेवी अग्रवाल, कल्याण आश्रम उ.हावड़ा की शर्मिला अग्रवाल, अल्का ककरानिया, सुमन अग्रवाल, रेणु सिंह, इंदू सिंह, बीना अग्रवाल, अनिता गोयनका आदि मौजूद थीं। गणेश वंदना से कार्यक्रम की शुरूआत हुई और दोनों संस्थाओं की महिलाओं ने गोपी नृत्य-तीज के गीतो पर मनमोहक नृत्य व गीत पेश कर मन मोहा। कार्यक्रम में मौजूद हावड़ा की अन्य सामाजिक-राजनीतिक संस्थाओं की महिलाओं ने इस प्रथम सिंधारा उत्सव की सराहना की। संचालन नीलिमा सिन्हा व शशि केशान ने किया।
जोड़---जनमाष्टमी---गौड़ीय मिशन बागबाजार में 3 दिवसीय जनमाष्टमी महोत्सव आज सेकोलकाता. उधर गौड़ीय मिशन बागबाजार में 3 दिवसीय जनमाष्टमी महोत्सव २३ से 25 अगस्त तक मनाया जाएगा। मिशन के आचार्य-सभापति भक्तिसुंदर सन्यासी गोस्वामी महाराज संपूर्ण कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे। २३ अगस्त को शाम 5 से 7 तक धर्मसम्मेलन और 24 अगस्त को जनमाष्टमी महोत्सव मनाया जाएगा। सुबह 6 से नगर संकीर्तन शोभायात्रा निकलेगी। 25 अगस्त को सुबह 9 से 12 तक नंदोत्सव के मौके पर नृत्य-नाटिका और दोपहर 12 से 3 तक भक्तों में महाप्रसाद वितरित किया जाएगा। मिसन के सेवा सचिव भक्तिप्रमोद पुरी महाराज ने 3 दिवसीय जनमाष्टमी महोत्सव में सभी श्रद्धालुओं को आमंत्रित किया है। उधर नेचुरल हाईट्स भक्त मंडल का आयोजन २५ कोजनमाष्टमी पर नेचुरल हाईट्स भक्त मंडल के तत्वावधान में २५ अगस्त सुबह 11 से पंचद्वश वार्षिकोत्सव सांवरिया बैंक्वेट में होगा। सभापति आरती (पिंकी) सर्राफ, मंत्री सिद्धार्थ सोंथालिया और कोषाध्यक्ष विमल अग्रवाल आदि आयोजन की सफलता में जुटे हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned