माध्यमिक परीक्षा में बजा हुगली का डंका

माध्यमिक परीक्षा में बजा हुगली का डंका

Shishir Sharan Rahi | Publish: May, 21 2019 08:50:31 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

जिले के 4 छात्रों ने राज्य मेघा तालिका में हासिल किया स्थान-जिले के छात्रों का उम्दा प्रदर्शन-छात्राओं के मुकाबले छात्रों ने बाजी मारी

हुगली. पश्चिम बंगाल के माध्यमिक के नतीजे मंगलवार सुबह घोषित हुए। इस बार मेगा सिटी के मुकाबले जिले के छात्रों ने उम्दा प्रदर्शन किया, जिसमें हुगली जिले के 4 छात्रों को राज्य रैंकिंग में 5वां, 6ठा, 8वां और 10वां स्थान प्राप्त हुआ। इस बार छात्राओं के मुकाबले छात्रों ने बाजी मारी। हुगली जिले के बंडेल स्थित मनसपुर जोगाश्रम निवासी हुगली कॉलेजिएट स्कूल के छात्र छात्र सुकल्प दे ने 686 अंक प्राप्त कर राज्य मेघा तालिका में 5वां स्थान पाकर जिले का नाम रोशन किया। सुकल्प ने बताया कि गणित उसका पसंदीदा विषय है और उसकी दादी गणित की शिक्षिका रही है। उनसे काफी प्रोत्साहन मिला और उनकी मदद से गणित में शत प्रतिशत अंक प्राप्त हुए। मैं स्कूल के शिक्षकों के अलावा 3 निजी ट्यूटर के बदौलत राज्य मेघा तालिका में 5वां स्थान प्राप्त किया। अपने प्रदर्शन से उत्साहित सुकल्प ने सफलता का श्रेय शिक्षकों, माता-पिता, दादी को दिया। सुकल्प के पिता सुकांता दे एक ज़ेरॉक्स और कंप्यूटर सेंटर चलाते हैं और मां किशना दे गृहिणी हैं। गोघाट के कामारपुकुर निवासी और गोगाट हाई स्कूल के छात्र सोहन दे ने 685 अंकों के साथ राज्य मेघा तालिका में 6ठा स्थान हासिल किया। सोहन ने गणित और जीव विज्ञान में 100 में 100 अंक हासिल किए। इसके अलावा ड्राइंग, पेंटिंग और कहानी की किताबें पढऩे का उसे शौक है। आरामबाग के सर्कस मैदान निवासी और आरामबाग गल्र्स हाई स्कूल की छात्रा देबोलीना दास ने 683 अंक हासिल कर राज्य मेघा तालिका में 8वां स्थान हासिल किया। देबोलीना ने बताया कि उसके पिता गौतम दास और मां सुस्मिता दास दोनों अंग्रेजी के शिक्षक हैं, उन्होंने 8वीं रैंक हासिल करने के लिए बहुत प्रोत्साहित किया। उसके पसंदीदा विषय भौतिक विज्ञान और जीव विज्ञान है और महत्वाकांक्षा मेडिकल साइंस की पढ़ाई है। धनियाखाली के अजयकृष्ण बाटी के रहने वाले महामाया विद्यामंदिर के छात्र सौम्यदीप दत्ता ने 681 अंक हासिल कर 10वां स्थान हासिल किया। सौमदीप ने कहा 7 घंटे पढ़ाई की, स्कूल के शिक्षकों और 6 निजी ट्यूशन शिक्षकों ने अपना पाठ तैयार करने में मदद की। माता-पिता दुलाल चंद्र दत्ता और रीना दत्ता ने प्रोत्साहित किया, जिससे गणित और भौतिक दोनों में 100 अंक हासिल कर सका। ड्राइंग और पेंटिंग में रुचि रखने वाले सौमदीप की इच्छा डॉक्टर बनकर इंसानी जिंदगी बचाना मकसद है।

------उधर रिसड़ा वाणी भारती स्कूल के शत प्रतिशत छात्र उतीर्ण
-हिन्दी माध्यम विद्यालयों ने लहराया परचम

उधर रिसड़ा के आदित्य बिड़ला वाणी भारती विख्यात अंग्रेजी माध्यम विद्यालय के छात्रों में बंगाल माध्यमिक बोर्ड के नतीजों में इस वर्ष भी उम्दा प्रदर्शन किया। इस विद्यालय का परीक्षा फल शत-प्रतिशत रहा। विद्यालय के छात्र राज्य मेधा तालिका के टॉप टेन में अपना स्थान दर्ज नहीं करा सके पर सभी छात्र उतीर्ण रहे। प्रिंसिपल सुष्मिता बनर्जी ने बताया कि इस वर्ष 101 छात्र-छात्राओं ने माध्यमिक परीक्षा दी थी जिसमें सभी सफल रहे। अनमोल शुक्ला ने 640 अंक (91.04 प्रतिशत) हासिल किया जबकि दिव्यांशी दत्त ने 626 (89.04) अंक हासिल कर विद्यालय का मान बढ़ाया। इसके अलावा 82 छात्रों ने प्रथम और 19 ने सेकंड डिवीजन हासिल किया।
----हिंदी माध्यम विद्यालय के नतीजों पर एक नजर

रिसड़ा के सरकारी हिंदी माध्यम विद्यालय विद्यापीठ में 99 प्रतिशत छात्र उतीर्ण रहे। चिंटू साव ने 526 अंक प्राप्त किया। रिसड़ा स्वतंत्र हिंदी विद्यालय में 89 प्रतिशत छात्र उतीर्ण रहे। यहां सर्वाधिक 523 अंक अभिषेक झा ने हासिल किया। रिसड़ा स्थित राधिका टाउन हाई स्कूल में 99 प्रतिशत छात्र उतीर्ण रहे और आनंद चौबे ने 635 अंक हासिल किया। रिसड़ा असेंबली ऑफ लिटिल बुड्स के 99 प्रतिशत छात्र उतीर्ण रहे और ऋषभ सिंह ने 87 और आकांक्षा सिंह ने 84 प्रतिशत अंक हासिल किया। बांसबेडिय़ा स्थित गंगेज स्कूल के 75 फीसदी छात्र सफल। गौतम कुमार यादव ने 476 अंक हासिल किया। हुगली स्थित हुगली गौर हरी हरिजन विद्या मंदिर के 70 फीसदी छात्र सफल। छात्रा कुसुम सिंह ने सर्वाधिक 466 अंक प्राप्त किया। चंपदानी स्थित आदर्श श्रमिक हिंदी विद्यालय के 85 प्रतिशत छात्र सफल। सुशील कुमार साह ने 538 अंक प्राप्त किए। बैंडल स्थित बैंडल महात्मा गांधी हिंदी विद्यालय के 64 प्रतिशत छात्र सफल। बंडेल स्थित साहागंज डनलप हिंदी हाई स्कूल के 85 प्रतिशत छात्र उतीर्ण रहे, मोहम्मद अयूब हसन ने 503 अंक हासिल किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned