आईसीएफ और एलएचबी कोच में होंगे बॉयो टॉयलेट्स

कोविड-19 संक्रमण काल में पूर्वी रेलवे ने बहाल की सुविधा

By: Rajendra Vyas

Published: 15 Jan 2021, 11:47 PM IST

कोलकाता. कोविड-19 संक्रमण काल में पूर्वी रेलवे ने आईसीएफ और एलएचबी कोचों में बॉयो-टॉयलेट्स की सुविधा बहाल की है। पूर्व रेलवे के सीपीआरओ कमलदेव दास ने बताया कि स्टेशनों पर मानव उत्सर्जन से मुक्त स्वच्छ और हरित वातावरण बनाए रखने समेत यात्रियों को स्वच्छंद तरीके से आरामदायक यात्रा बहाल करने के लिए ऐसा किया गया है। बॉयो-टॉयलेट्स ने रेल पटरियों पर मानव उत्सर्जन के प्रत्यक्ष निर्वहन को समाप्त करने में मदद की है जिससे भारत सरकार की स्वच्छ भारत मिशन नीति के अनुरूप प्रणाली को अधिक पर्यावरण के अनुकूल बनाया गया। इससे स्टेशन परिसर में मैनुअल स्कैवेंजिंग की आवश्यकता को समाप्त कर दिया गया है। बॉयो-टॉयलेट विशिष्ट उच्च श्रेणी के जीवाणुओं का उपयोग करके डाइजेस्टर टैंक में मानव उत्सर्जन अपशिष्ट को विघटित करता है। यह प्रक्रिया जल जनित रोगों के लिए जिम्मेदार रोगजनकों को निष्क्रिय करती है और बाहरी ऊर्जा स्रोत के उपयोग के बिना अपशिष्ट का उपचार करती है। रेलवे ने इसके साथ ही यात्रियों से बॉयो-टॉयलेट के उपयोग में कुछ बुनियादी मानदंडों का पालन करने की आवश्यकता पर जोर दिया है। इसके तहत किसी भी प्रकार के कचरे, रूमाल आदि को कमोड के अंदर नहीं फेंकने, डस्टबिन का उपयोग करने, बॉयो-टॉयलेट उपयोग से पहले और बाद में फ्लशिंग करने का आग्रह किया है।

Rajendra Vyas Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned