बस के बाद टैक्सी मालिकों ने की किराया बढ़ाने की मांग

- नहीं हुई वृद्धि तो नहीं चलेंगी टैक्सियां

By: Renu Singh

Updated: 11 Jan 2021, 09:14 AM IST

कोलकाता
बस के बाद अब टैक्सी मालिक संगठन भी किराया बढ़ाने की मांग को लेकर मुखर हुए हैं। इस संबंध में संगठन की ओर से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी व परिवहन विभाग को पत्र भेजा जाएगा। संगठन टैक्सी का शुरूआती किराया 50 रुपये चाहते हैं। बंगाल टैक्सी एसोसिएशन ने कहा है कि 30 जनवरी तक अगर किराए में वृद्धि नहीं की गई तो दो फरवरी से टैक्सियां नहीं चलेंगी। एसोसिएशन के सचिव विमल गुहा ने कहा कि हमने बहुत समय पहले ही किराया बढ़ाने की मांग की थी लेकिन हमारी बात नहीं सुनी गई। राज्य सरकार के अनुरोध पर हमने पुराने किराए पर टैक्सियां उतारी थीं लेकिन इस तरह से टैक्सी चलाना अब संभव नहीं।बस के बाद अब टैक्सी मालिक संगठन भी किराया बढ़ाने की मांग को लेकर मुखर हुए हैं। इस संबंध में संगठन की ओर से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी व परिवहन विभाग को पत्र भेजा जाएगा। संगठन टैक्सी का शुरूआती किराया ५० रुपये चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इससे पहले 2011 में अंतिम बार तत्कालीन परिवहन मंत्री मदन मित्रा ने भाड़ा बढ़ाया था। तब टैक्सी किराया 25 से बढ़ाकर 30 रुपए किया था। पर अब हमें 77.70 रुपए प्रति लीटर दर से डीजल खरीदना पड़ रहा। गुहा ने कहा तेल के दाम रोज बढ़ रहे हैं। उसमें 30 रुपए शुरूआती दर पर टैक्सी चलाना मुमकिन नहीं। उन्होंने कहा कि शुभेंदु अधिकारी के मंत्री पद छोड़ने के बाद यह विभाग सीएम के पास है। इसलिए किराया बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री से गुहार लगाई जाएगी। गौरतलब है कि कोलकाता में अभी  4000 से 6000 पीली टैक्सियां ही चल रही

Renu Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned