तीन साल बाद मालूम चला किसी और को मिल गई शौचालय की राशि

तीन साल बाद मालूम चला किसी और को मिल गई शौचालय की राशि

Vanita Jharkhandi | Updated: 25 Jun 2018, 09:38:15 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

- आवेदक ने दर्ज की शिकायत

दार्जिलिंग . शौचालय निर्माण के लिए सरकारी सहायता हितग्राही की जगह दूसरे व्यक्ति के खाते में जाने का मामला सामने आया है। हितग्राही ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। घटना दार्जिलिंग के डाबग्राम फूलबाड़ी एक नम्बर ग्रामपंचायत के खोलाछाद फापडीह निवासी प्रकाश लेपचा के साथ घटी। सूत्रों के अनुसार प्रकाश ने वर्ष 2015 में सरकारी सहायता से शौचालय बनवाने के लिए आवेदन किया। तीन साल बीतने के बाद भी जब उसके खाते में सहायता राशि नहीं आई तो उसने अपने मित्र की मदद से अपने आवेदन की ऑनलाइन जानकारी जुटाई। उसे पता चला कि उसके नाम से 2016 से में ही पैसा दिया जा चुका है। वह हैरान हो गया कि आखिर पैसे किसे दिए गए। प्रकाश ने थाने में शिकायत की। पंचायत में भी इसकी जानकारी दी। रायगंज ब्लाक प्रशासन के अधिकारी ने बताया कि हमें शिकायत मिली है। हम देख रहे है कि पैसे कहां गए।

 

घर के पास से मिला महिला का शव

- पुलिस कर रही है जांच
बारूईपुर . दक्षिण 24 परगना के रायदिघि थानान्तर्गत मुखर्जी चौक इलाके में एक महिला का शव घर से थोड़ी दूर से बरामद हुआ। वह रविवार से लापता थी। मृतका का नाम रंजीता सरदार (25) है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। सूत्रों के अनुसार रंजीता पिछले कुछ दिनों से पारिवारिक समस्या से परेशान थी। रविवार की शाम को घर से बाहर निकली थी। उसके बाद से ही उसका पता नहीं चल रहा था। सोमवार की सुबह घर से कुछ दूरी पर बागान से उसका शव पड़ा देखा। थाने को सूचना दी गई। पुलिस का अनुमान है कि उसने जहर खाकर आत्महत्या की है। मामले की जांच की जा रही है। दूसरी तरफ मंदिर बाजार से टेक पांजा इलाके से एक युवती का शव मिला। मृतका का नाम आसमूदा खातून (20) है। युवती के गले व शरीर में धारदार हथियार से वार करने के चिह्न मिले हैं। पुलिस इसे हत्या मान कर मामले की जांच कर रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned