Political rivalry: कौन है मेड इन चाइना चाणक्य, जानिए पूरा मामला

Political rivalry: कौन है मेड इन चाइना चाणक्य, जानिए पूरा मामला

Rabindra Rai | Publish: Jul, 14 2019 03:49:24 PM (IST) Kolkata, Kolkata, West Bengal, India

Senior BJP leader Mukul Roy और Trinamool Congress leader Abhishek Banerjee में Political rivalry किसी में छिपी नहीं है। वार और पलटवार के बीच अभिषेक बनर्जी ने उन्हें Made In China Chanakya करार दिया है।

कोलकाता
भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकुल राय और तृणमूल कांग्रेस के बड़े नेता अभिषेक बनर्जी में राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता किसी में छिपी नहीं है। वार और पलटवार के बीच अभिषेक बनर्जी ने उन्हें मेड इन चाइना चाणक्य करार दिया है। उन्होंने दावा किया कि दिल्ली में अपना कद बढ़ाने के लिए मुकुल राय ये सब कर रहे हैं। लेकिन वास्तव में वे मेड इन चाइना चाणक्य हैं। वे 10 पार्षदों को संभाल कर नहीं रख पा रहे हैं। अब पश्चिम बंगाल के १०७ विधायकों के अपने सम्पर्क में होने तथा जल्द भाजपा में शामिल होने का दावा कर रहे हैं। जबकि हाल में तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर नई दिल्ली जा कर भाजपा में शामिल हुए उत्तर 24 परगना जिले की कांचरापाड़ा नगरपालिका के नौ पार्षदों ने घर वापसी की है। सभी पार्षदों को ईएम बाई पास स्थित तृणमूल भवन में तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सांसद भतीजे अभिषेक बनर्जी ने पार्टी का झण्डा थमा कर पार्टी में शामिल कर लिया। 24 सीटों वाली इस पालिका में तृणमूल के पार्षदों की संख्या 19 हो गई। इसके साथ ही उक्त नगरपालिका पर फिर से तृणमूल कांग्रेस का कब्जा हो गया।
उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के पार्षदों व डरा धमका कर जबरन दिल्ली ले जा कर भाजपा में शामिल किया गया था। कोई भी राजनतिक पार्टी किसी को भी डरा-धमका कर अधिक दिनों नहीं रख सकती है। तृणमूल कांग्रेस के पार्षद फिर से अपने घर वापस आ गए।
इससे पहले मुकुल राय ने राज्य की राजनीतिक पार्टियों के 107 विधायकों के भाजपा में शामिल होने का दावा किया।
मुकुल राय ने कहा कि बंगाल में कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और माकपा के 107 विधायक भाजपा में शामिल होंगे। भाजपा में शामिल होने के लिए तैयार उक्त तीनों पार्टियों के विधायकों की सूची तैयार है। वे सभी उनके संपर्क में हैं। वे भाजपा कार्यालय में संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे।
लोकसभा चुनाव से पहले और बाद में मुकुल राय ने तृणमूल कांग्रेस के 25 और बैरकपुर से पार्टी सांसद अर्जुन सिंह ने भाजपा में शामिल होने के लिए तृणमूल कांग्रेस के 40 विधायकों के तैयार होने का दावा किया था। चुनाव से पहले और बाद में तृणमूल कांग्रेस और दूसरे दलों के एक दर्जन विधायक, 60 से अधिक पार्षद और ग्राम पंचायत व जिला परिषद के सदस्य भाजपा में शामिल हुए हैं। तृणमूल कांग्रेस से आए पार्षद घर वापसी भी कर चुके हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned