बीपीएल परिवार के बच्चों को प्रवेश देने के लिए साडा कन्या स्कूल में नोडल अधिकारियों की हुई बैठक, जानें क्या दिए गए निर्देश...

- आवेदन प्राप्त होने से लेकर प्रवेश देने तक की हर प्रक्रिया के लिए समय सीमा तय

By: Shiv Singh

Published: 07 Jun 2018, 12:07 PM IST

कोरबा. शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत निजी विद्यालयों में बीपीएल परिवार के बच्चों को प्रवेश देने के लिए साडा कन्या स्कूल में जिले के सभी नोडल अधिकारियों की बैठक बुधवार को हुई। बैठक में बताया गया कि आठ जून तक स्क्रूटनी करनी है। बुधवार को साडा कन्या विद्यालय में आरटीई से प्रवेश के लिए जिले के सभी नोडल अधिकारियों को बुलाया गया था।

ऑनलाईन आवेदन प्राप्त होने के बाद अब छात्रों को प्रवेश देने की प्रक्रिया विभाग द्वारा शुरू की जा रही है। किन परिस्थतियों में कौन से नियम का पालन करना है। इस संबंध में शासन स्तर से विभाग को विस्तृत दिशा निर्देश मिले हैं। जिसमें आवेदन प्राप्त होने से लेकर प्रवेश देने तक की हर प्रक्रिया के लिए समय सीमा तय कर दी गई है। इसी का पालन कर विभाग द्वारा गरीब परिवार से आने वाले नौनिहालों को प्राथमिक कक्षाओं में प्रवेश दिया जाएगा। पूरी प्रक्रिया में क्षेत्र के नोडल अधिकारियों का बेहद अहम योगदान है। जिनका पर्यवेक्षण जिला शिक्षा अधिकारी करेंगे।

Read More : आखिर क्यों नए स्मार्ट कार्ड बनाने का काम हुआ ठप, जानकर आप हो जाएंगे हैरान, पढि़ए खबर...

18 जून से शाला में लेना होगा प्रवेश
पोर्टल या लॉटरी से सीधे चयनित छात्रों के प्रमाणपत्रों से जुड़े आदि औपचारिकताओं को संबंधित नोडल अफसर हर हाल में १२ जून तक पूरा करेंगे। इसके पहले आवश्यकतानुसार लॉटरी भी निकाली जाएगी। इसके बाद इन आवेदनों व प्रमाणपत्रों की छानबीन होगी। जिसके बाद१८ जून से स्कूलों में प्रवेश की कार्यवाही शुरू होगी। नोडल प्रवेश की सूचना से लेकर प्रवेश देने तक की समस्त कार्यवाहियों पूरी करेंगे। जिसके बाद पोर्टल में ही अप्रूव्ड फुल्ली अंकित करना होगा।

एक ही आवेदन होगा मान्य
आरटीई के तहत आवेदन करने वाले छात्रों ने यदि दो स्थानों से आवेदन किया है। तो ऐसी स्थिति में उनके एक ही आवेदन को मान्य किया जाएगा। एक से अधिक आवेदन किए गए हैं तो इसे डुप्लीकेट आवेदन मान कर रद्द कर दिया जाएगा।

जहां ज्यादा आवेदन वहां 9 से 12 जून के मध्य लॉटरी
ऐसे विद्यालय जहां उपलब्ध सीट की तुलना में ज्यादा संख्या में आवेदन मिले हैं। वहां लॉटरी की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। जहां भी लॉटरी की प्रक्रिया से सीट का फैसला होगा, वहां के नोडल अफसर की यह जिम्मेदारी है कि वह इसकी सूचना आवेदक को पहुंचाएगा। पोर्टल व एसएमएस के माध्यम से भी जानकारी प्रेषित की जाएगी। लॉटरी की प्रक्रिया ९ से १२ जून के मध्य पूरी की जाएगी। जिनका चयन नहीं हो पाया उन्हें भी नोडल अफसर सूचित करेंगे।

-बैठक में आरटीई से प्रवेश के लिए सभी आवश्यक कार्यवाहियों की जानकारी नोडल अफसरों को दी गई है। प्रवेश देने की तिथि १८ जून है। इसके पहले सभी प्रक्रिया पूरी होगी। विभाग को कुल ४३५० ऑनलाईन आवेदन प्राप्त हुए हैं। डीके कौशिक, डीईओ

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned