कोल इंडिया मुख्यालय कोलकाता में स्टैंडराइजेशन कमेटी की हुई बैठक, जानें किस बात पर बनी सहमति

Shiv Singh

Publish: Jul, 13 2018 09:31:25 PM (IST)

Korba, Chhattisgarh, India
कोल इंडिया मुख्यालय कोलकाता में स्टैंडराइजेशन कमेटी की हुई बैठक, जानें किस बात पर बनी सहमति

- रिपोर्ट आने तक अनुकंपा नौकरी की वर्तमान प्रक्रिया जारी रखने का आश्वासन प्रबंधन की ओर से दिया गया

कोरबा. एटक और सीटू के बहिष्कार के बीच कोल इंडिया मुख्यालय कोलकाता में शुक्रवार को स्टैंडराइजेशन कमेटी की बैठक हुई। इसमें आश्रितों के नौकरी देने पर लगी अघोषित रोक को हटाने पर सहमति बनी। साथ ही नौकरी की प्रक्रिया में बदलाव के लिए कोल इंडिया के कार्मिक प्रबंधक की अध्यक्षता में कमेटी के गठन का निर्णय लिया गया। रिपोर्ट आने तक अनुकंपा नौकरी की वर्तमान प्रक्रिया जारी रखने का आश्वासन प्रबंधन की ओर से दिया गया। बैठक में पोस्ट रिटायरमेंट मेडिकल स्कीम की भी मंजूरी दी गई। इसके संचालन के लिए ट्रस्ट रजिस्ट्रेशन के लिए नाम मांगा गया।

Read More : आखिर क्यों इन दिनों स्याहीमुड़ी के ग्रामीण चल रहे नाराज, जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर इस बात पर मांग रहे समर्थन, पढि़ए खबर...
शुक्रवार को कोलकाता में कोल इंडिया के स्टैंडराइजेशन कमेटी की बैठक हुई। इसमें १० बिन्दुओं पर चर्चा की गई। आठ बिन्दुओं पर प्रबंधन और यूनियन के बीच सहमति बन गई। इसमें सबसे महत्वपूर्ण आश्रितों के अनुकंपा नौकरी का मामला है। कोल इंडिया की अनुषांगिक कंपनियों में एक अप्रैल से अनुकंपा नौकरी की फाइलों को रोक दिया गया था। इसे चालू करने पर सहमति बनी। अनुकंपा नौकरी की बदलाव के लिए कोल इंडिया के कार्मिक निदेशक की अध्यक्षता में सब कमेटी बनाई जाएगी।

रिपोर्ट आने तक अनुकंपा नौकरी वर्तमान प्रक्रिया के अनुसार अनुषांगिक कंपनियों में दी जाएगी। पोस्ट रिटायरमेंट मेडिकल स्कीम को मंजूरी दी गई। पहली जुलाई २०१६ से सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारी पोस्ट रिटायरमेंट मेडिकल स्कीम के सदस्य होंगे। स्कीम में कर्मचारियों के अंशदान राशि की कटौती एरियर से करने के यूनियन के प्रस्ताव को प्रबंधन ने स्वीकार कर लिया। ओवर टाइम की गणना के लिए बेसिक में बदलाव का निर्णय लिया गया है।

ओवर टाइम की गणना २३ हजार ६३८.४६ रुपए के बजाय ३९ हजार ५५३.१४ रुपए पर करने का निर्णय लिया गया। बैठक में स्टैंडराइजेशन कमेटी के अध्यक्ष पीके सिन्हा, कार्मिक निदेशक आरपी श्रीवास्तव, एसईसीएल के कार्मिक निदेशक आरएस जॉन, सीसीएल के आरएस महापात्रा, डब्ल्यूसीएल के डॉ संजय कुमार, एमसीएल के एलएन मिश्रा, सीएमपीडीआई के डायरेक्टर एके चक्रवर्ती, बीसीसीएल के आरएच महापात्रा, श्रमिक संगठन के भारतीय मजदूर संघ बीके राज, वाईएन सिंह, एचएमएस के नाथू लाल पांडे और एसके पांडे शामिल हुए।

Ad Block is Banned