Online परीक्षा फॉर्म सहूलियत के बजाय इस तरह छात्रों के लिए बन गया मुसीबत

Online परीक्षा फॉर्म सहूलियत के बजाय इस तरह छात्रों के लिए बन गया मुसीबत

Rajkumar Shah | Publish: Nov, 15 2017 10:31:24 AM (IST) | Updated: Nov, 15 2017 10:34:10 AM (IST) Korba, Chhattisgarh, India

ऑनलाईन परीक्षा फॉर्म सहूलियत प्रदान करने के बजाय छात्रों के लिए मुसीबत बन गया है। अवधी बीतने बाद भी कई छात्र अब भी आवेदन नहीं भर सके हैं।

कोरबा . ऑनलाईन परीक्षा फॉर्म सहूलियत प्रदान करने के बजाय छात्रों के लिए मुसीबत बन गया है। अवधी बीतने बाद भी कई छात्र अब भी आवेदन नहीं भर सके हैं। जिनकी रातों की नींद उड़ी हुई है। हालांकि ऐसे कुल कितने छात्र हैं। इसकी संख्या कॉलेज से नहीं मिल सकी है। लेकिन जो अब तक फॉर्म नहीं भर सके हैं, उन्हें बिलासपुर जाकर प्रक्रिया पूरी करनी होगी।


फिलहाल पीजी संकाय के प्रथम व तृतीय सेमेस्टर के छात्रों के आवेदन ऑनलाईन भरे जा रहे हैं। आवेदन भरकर कॉलेेज में प्रिंटआऊट जमा करने की अंतिम तिथि 14 नवंबर तक बढ़ाई गई थी। इसके लिए छात्र अंतिम तिथि तक पूरे दिन परेशान रहे।

पीजी संकाय के ऐसे प्रथम व तृतीय सेमेस्टर के छात्र जो ऑनलाईन आवेदन की प्रिंट आऊट कॉपी कॉलेज में जमा नहीं कर सके थे। वह खासे परेशान रहे, गुरूवार की शाम बिलासपुर विश्वविद्यालय की वेबसाईट का हाल काफी बुरा रहा। यह पूरी तरह से क्रैश हो गई। छात्रा बार-बार इसे खोलने का नाकाम प्रयास करते रहे।

Read more : बच्चों के हाथ में अजगर देखकर लोगों के उड़ गए होश, पढि़ए खबर...

कई छात्र अंतिम तिथि तक भी नहीं भर पाए आवेदन- पीजी संकायों प्रथम व तृतीय सेमेस्टर के कई छात्र कनेक्टिविटी की दिक्कतों के कारण ऑनलाईन आवेदन भरने से वंचित रह गए थे। ऐसे छात्रों ने कॉलेज को इसकी सूचना दी। अब ऐसे सभी छात्रों की सूची कॉलेज द्वारा विश्वविद्यालय को प्रेषित की गई है। केवल इन्हीं छात्रों के आवेदन विश्वविद्यालय द्वारा स्वीकार किए जाएंगे। लेकिन अब ऐसे सभी छात्रों को आवेदन भरने के लिए बिलासपुर का चक्कर लगाना होगा।

बीयू ने बनाया अपना पोर्टल- सत्र की शुरूआत में ऑनलाईन एडमिशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया पूरी करने के लिए शासन के चिप्स विभाग ने मदद की थी। कॉलेज व विश्वविद्यालय को चिप्स ने ही तकनीकी सहायत मुहैया कराई थी। लेकिन अब ऑनलाईन परीक्षा फॉर्म भरने के लिए विश्वविद्यालय ने अपना खुद का पोर्टल विकसीत किया है। दोनो ही बार नए-नए प्रयोग किए गए जिसका खामियाजा छात्रों को भुगतना पड़ा। अब भी कई छात्र परेशान हैं।

प्रथम वर्ष वालों को भी बुलाया बिलासपुर- जिले में ग्रामीण अंचल के ऐसे कई छात्र हैं जो किसी कारणवश अब तक नामांकन फॉर्म भी नहीं भर पाए हैं। इनके नामांकन और परीक्षा फॉर्म भरे जाने के लिए कॉलेज के प्राचार्यों ने ऐसे छात्रों की संख्या बिलासपुर भेजी है। अब इन छात्रों को बिलासपुर जाना होगा। जहां इनके फॉर्म ऑफलाईन भरवाए जाएंगे।

पूरक परीक्षार्थियों के लिए बढ़ाई गई तिथि- विश्वविद्यालय द्वारा पूनर्मुल्यांकन के नतीजे हाल ही में जारी किए हैं। नतीजे जारी होने के बाद ऐसे कई छात्र सामने आए हैं, जो फेल होने बाद अब पूरक हो गए हैं। ऐसे भी कुछ हैं जो पास थे लेकिन पूनर्मुल्यांकन के नतीजों में पूरक घोषित कर दिए गए हैं।

अब इस तरह के सभी परीक्षार्थियों को पूरक परीक्षा दिलानी होगी। पूरक परीक्षा नवंबर के अंतिम सप्ताह तक चलेगी।

पूरक परीक्षार्थियों के लिए ऑनलाईन आवेदन भरने की तिथि 18 नवंबर निर्धारित की गई है। पूरक परीक्षार्थी 18 नवंबर तक ऑनलाईन परीक्षा फॉर्म भरकर इसकी प्रिंटआऊट की कॉपी कॉलेज में जमा कर सकते हैं।

Ad Block is Banned