आधी रात बाड़ी की फेंसिंग में फंसकर तड़प रहा था भालू, छुड़ाने पहुंचा युवक तो वहां मौजूद 4 भालुओं ने मार डाला

Bear killed: नगर निगम क्षेत्र में देर रात भालू व उसके शावकों ने किया हमला (Bears attack), गंभीर हालत में युवक को ले जाया गया अस्पताल (Hospital) लेकिन नहीं बच सकी जान

By: rampravesh vishwakarma

Published: 30 Sep 2020, 03:35 PM IST

बैकुंठपुर. नगर निगम क्षेत्र में भालू एवं शावकों का दल मक्का खाने पहुंचा था। इसी दौरान 1 भालू बाड़ी की फेंसिंग में फंसकर आवाज करते हुए तड़पने लगा। आवाज सुनकर युवक वहां पहुंचा और भालू को फेंसिंग से छुड़ाने लगा। इसी बीच वहां मौजूद अन्य भालुओं ने हमला (Bears attack) कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया।

परिजनों द्वारा युवक को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया, यहां इलाज के दौरान सुबह उसकी मौत (Bears killed) हो गई। अस्पताल में परिजन इसके बाद भी परेशान रहे। पीएम कराने के लिए उन्हें 4 घंटे तक इंतजार करना पड़ा।


कोरिया जिले के चिरमिरी नगर निगम क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 1 के नवापारा बस्ती निवासी मनोज पिता बृजलाल सोमवार की रात घर में सो रहा था। करीब 12 बजे भालुओं (Bears) की आवाज सुनकर वह अपनी बाड़ी में पहुंचा।

बाड़ी में मक्के की फसल लगी हुई थी। उसने देखा कि एक भालू बाड़ी में लगी फेंसिंग में फंसा हुआ है और शोर कर रहा है। यह देख वह भालू को फेंसिंग से छुड़ाने पहुंच गया।

इसी बीच वहां मौजूद अन्य भालुओं ने उस पर हमला (Bears attack) कर दिया। 4-5 की संख्या में भालुओं ने अपने पैने नाखूनों व दांत से उसके चेहरे, सिर व पैर को नोच डाला। जब वह चिल्लाने लगा तो भालू उसे छोडक़र वहां से भाग निकले।


युवक ने अस्पताल में तोड़ा दम
युवक को उसके परिजनों द्वारा रात में ही बड़ी बाजार स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। यहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल बैकुंठपुर के लिए रेफर कर दिया। जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मंगलवार की सुबह करीब 8 बजे युवक ने दम तोड़ (Young man death in bears attack) दिया।


8 पीएम के लिए 4 घंटे तक डॉक्टर का इंतजार
युवक की मौत सुबह 8 बजे हो गई थी। परिजनों का कहना है कि कागजी प्रक्रिया पूरे करने में 4 घंटे लग गए। दोपहर 12 बजे युवक का शव पीएम के लिए ले जाया गया लेकिन डॉक्टर ही नहीं आए। ऐसे में उन्हें 4 घंटे तक चीरघर के बाहर बैठना पड़ा। शाम 4 बजे डॉक्टर पहुंचे, इसके बाद पीएम किया।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned