मंच पर भावुक हो गए मंत्री, कहा- मैंने और मेरे परिवार ने भूसी की रोटियां खाईं, इलाज के अभाव में भाई को खोया

कार्यक्रम के दौरान बोले- अस्पताल व अदालत के चक्कर में आदमी व उसका पूरा जीवन हो जाता है तबाह

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 09 Aug 2018, 08:29 PM IST

पोड़ी बचरा. श्रम विभाग के तत्वावधान में पोड़ी स्कूल ग्राउंड में पंजीकृत मजदूरों को सब्बल गैती, तगाड़ी सहित 41 नग साइकिल बांटी गईं। इस दौरान श्रम मंत्री ने कहा कि उन्होंने गरीबी देखी है। यह कहते हुए वे भावुक हो गए कि इलाज के अभाव में उनके बड़े भाई की मौत हो गई थी तथा उन्होंने व उनके परिवार ने भूसी की रोटियां खाई थीं।


श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूरों को साइकिल व अन्य सामग्री वितरण कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्रम खेल एवं युवा कल्याण मंत्री भइयालाल राजवाड़े भावुक हो गए और कहा कि मैंने गरीबी को करीब से देखा है। सन् 1967 के भीषण अकाल में मैंने और मेरे परिवार ने धान की भूसी की रोटियां खाई है। उस समय इलाज के अभाव में मेरे बड़े भाई की मौत हो गई थी।

 

People in programme

बेहतर उपचार कराने पैसे व चिकित्सकीय सुविधा भी उपलब्ध नही थी। इस कारण गांव मे गुनियां, बैगा, देवार के माध्यम से जंगली जड़ी-बूटी से इलाज मिलता था। बड़े भाई को बुखार आया तो उसे गुनियां ने पत्थर नीम की खुराक दी थी। लेकिन उसका बुखार नहीं उतरा और बड़े भाई दुनिया से चल बसे थे। उसी दिन से मैंने प्रण किया कि जब मैं किसी दिन सक्षम हो जाऊंगा तो इलाज के अभाव व पैसों की कमी से किसी की मृत्यु नहीं होने की दी जाएगी।

मेरे पास बीमारी की बात व इलाज कराने में असमर्थता जाहिर करता है तो उसका इलाज व दवा की जिम्मेदारी स्वयं लेता हूं। उन्होंने कहा कि मुझे मालूम है कि अस्पताल और अदालत ये दो चीजें आदमी के जीवन में कभी न आएं। दोनों चीजें जिस व्यक्ति के ऊपर पड़ जाए, उसका जीवन तबाह हो जाता है।

इस अवसर पर जनपद उपाध्यक्ष अशोक जायसवाल, रियाज अहमद, अवधबिहारी जायसवाल, मनोरमा जायसवाल, नरेश्वर रजक, राम प्रताप साहू, प्यारे साहू, कैलाश जायसवाल सहित अन्य कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद थे।


सचिव को जमकर फटकारा, 15 दिन में साइकिल बांटने कहा
कार्यक्रम में मंत्री राजवाड़े ने कहा कि बचरापोंड़ी क्षेत्र में करीब 242 परिवार को आबादी प्लाट का पट्टा मिलना था, लेकिन 142 परिवार को ही वितरण किया जा सका है। वहीं बैकुंठपुर विधानसभासभा के 24 पंचायत में 3000 साइकिल वितरण होना है, जिसमें अभी तक 300 साइकिल का वितरण किया गया है।

उन्होंने ग्राम पंचायत के सचिव को जल्द सूची उपलब्ध कराने और 15 दिन के भीतर साइकिल वितरण कर सूचित करने के निर्देश दिए हैं। कार्यक्रम में पोड़ी पंचायत के सचिव से साइकिल जानकारी ली। इस दौरान खडग़वां में रखने की बात कहने पर जमकर फटकारा और सख्त हिदायत देकर कहा कि साइकिल रखने के लिए नहीं आई है।

साइकिल को वितरण करना है। आपकी लापरवाही के कारण जरुरतमंदों तक शासन की योजनाएं पहुंचने में लेटलतीफी हो रही है। वहीं 100 पट्टे का लेमिनेशन नहीं होने और वितरण नहीं करने पर पटवारी को जमकर लगाकर एक सप्ताह के भीतर बांटने के निर्देश दिए हैं।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned