क्राइम ब्रांच एसपी के नाम से लाखों की ठगी, महिला विधायक को भी बनाया निशाना

मदनगंज-किशनगढ़ . पत्रिका. नई दिल्ली क्राइम ब्रांच के एसपी राजवीर सिंह के नाम से उद्यमियों और व्यापारियों समेत अन्य लोगों को फोन से डरा धमका कर लाखों की ठगी करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गांधीनगर थाना पुलिस ने उसे शुक्रवार को अदालत में पेश किया, जहां से उसे पूछताछ के लिए दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया। आरोपी ने विधायक चंद्रकांता मेघवाल से भी दो लाख रुपए की अवैध वसूली करना कबूला है।

By: Deepak Sharma

Updated: 03 Apr 2021, 01:03 AM IST

मदनगंज-किशनगढ़ . पत्रिका. नई दिल्ली क्राइम ब्रांच के एसपी राजवीर सिंह के नाम से उद्यमियों और व्यापारियों समेत अन्य लोगों को फोन से डरा धमका कर लाखों की ठगी करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गांधीनगर थाना पुलिस ने उसे शुक्रवार को अदालत में पेश किया, जहां से उसे पूछताछ के लिए दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया। आरोपी ने विधायक चंद्रकांता मेघवाल से भी दो लाख रुपए की अवैध वसूली करना कबूला है।
पुलिस अधीक्षक जगदीशचंद्र शर्मा ने बताया कि परिवादी टूंकड़ा रोड स्थित तेजा मार्बल फैक्ट्री के मालिक पाबूराम जाट ने गांधीनगर थाने में 2 मार्च को रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि एक व्यक्ति क्राइम ब्रांच एसपी राजवीर सिंह के नाम से फर्जी तरीके से उसे कॉल कर पैसे देने के लिए परेशान कर रहा है। गांधीनगर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण किशनसिंह भाटी के निर्देशन में डिप्टी (सिटी) भूपेन्द्र शर्मा के निर्देशन एवं सुपरविजन में एसएचओ विजयसिंह के नेतृत्व में टीम गठित की।

मोबाइल की लोकेशन से पकड़ा
टीम का गठन कर फर्जी आईपीएस के मोबाइल नम्बर से कड़ी से कड़ी जोड़कर लोकेशन ट्रेस की गई गई। इसके बाद आरोपित कोटा के रेलवे कॉलोनी देवली मछान गाडीवाले बाबा के पास किशनपुरा टाकिया एवं हाल कोटा के थाना भीमगंजमंडी स्थित जनकपुरी केयर ऑफ वकील सतवेंद्र सिंह के यहां निवासी शिवा उर्फ गुड्डू छीपा (28) को गिरफ्तार कर लिया।

यह है मामला
मार्बल उद्यमी पाबूराम के रिश्तेदार से टाइल्स की गाड़ी मंगवाने को लेकर 6 लाख 70 हजार के भुगतान का मामला सामने आया था। इन रुपयों के लिए आरोपी ने एसपी राजवीर सिंह के नाम से फोन किया। बाद में गांधीनगर थाने के थानाधिकारी और हैड कांस्टेबल को फोन कर रुपए दिलवाने के लिए दबाव बनाने को कहा। बाद में खुद ही फोन कर दबाव बनाया।

ऐसे रचता था षड्यंत्र
आरोपित शिवा उर्फ गुड्डू फर्जी मोबाइल सिमें लेकर खुद को दिल्ली क्राइम ब्रांच का आईपीएस राजवीर सिंह बताते हुए लोगों को फोन करके धमकी देता और मोटी रकम हड़पकर ठगी की वारदात को अंजाम देता।

आरोपित ने कबूली वारदातें
वर्ष 2016 में रामगंजमंडी की विधायक चन्द्रकान्ता को धमकी दी और कहा कि मैं क्राइम ब्रांच से एसपी राजवीर सिंह बोल रहा हूं, 2 लाख रुपए की मांग की और विधायक से 2 लाख रुपए हड़प लिए। एक मामले में नयापुरा थाने में थानेदार को क्राइम ब्रांच के मुकदमे का रिकॉर्ड मांगने के लिए फोन किया था। इनके अलावा गोरखपुर, लखनऊ, कानपुर आगरा, कर्नाटक, महाराट्र भी वारदातें की कोशिश की। खुद को क्राइम ब्रांच का एसपी राजवीर सिंह बता कर लाखों रुपए की ठगी करने के आरोपित पर कई प्रकरण दर्ज हैं।

Show More
Deepak Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned