स्मार्टफोन बाजार पर भी 'कोरोना अटैक' ,करोड़ों के नुक्सान की आशंका

मोबाइल कंपोनेंट का आयात नहीं होने से घटा उत्पादन, खत्म हो रहा है स्टॉक

By: KR Mundiyar

Updated: 07 Mar 2020, 01:25 PM IST

कोटा .कोराना वायरस का बड़ा असर चीन से होने वाले आयात पर पड़ा है। कोटा मोबाइल एसोसिएशन के अध्यक्ष कन्हैया कारवानी के मुताबिक चीन में मोबाइल कंपोनेंट बनाने वाली फैक्ट्रियां काफी समय से बंद हैं। शहर में स्मार्टफोन विक्रेता आपूर्ति नहीं होने से परेशान हो रहे हैं। जल्द हालात नहीं सुधरे तो स्मार्टफोन के दाम बढऩे की वजह से मोबाइल फोन की बिक्री 40 से 60 फीसदी तक घट सकती है। आपूर्ति की यह किल्लत केवल कोटा तक सीमित नहीं है। सामान्य दिनों में शहर में स्मार्टफोन की खरीद का आंकड़ा 2 करोड़ रुपए प्रतिदिन का है।


मोबाइल कारोबार की गणित

- 224 शोरूम, रिटेलर एसोसिएशन में पंजीकृत
- 10 मोबाइल का प्रत्येक दुकान पर औसत कारोबार
- 2000 मोबाइल का दुकानों से रोजाना कारोबार
- 2000 मोबाइल का रोजाना ऑनलाइन कारोबार
- 5000 रुपए प्रत्येक मोबाइल की औसत कीमत
- 2 करोड़ के मोबाइल का रोजाना कोटा में कारोबार

(सोर्स -कोटा मोबाइल एसोसिएशन)

ट्रेन में अल सुबह चार बदमाशों ने उड़ाई यात्रियों की नींद, लूट

की वारदात से जीआरपी में हड़कम्प


भारत मोबाइल फोन का दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा बाजार है। साल 2019 में भारत में तकरीबन 15 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री हुई, इनमें 10 करोड़ 30 लाख स्मार्टफोन चीनी कंपनियों द्वारा निर्मित थे। यानि हर सैकंड हम 3 से ज्यादा चीनी स्मार्टफोन खरीद रहे हैं।

भारत के 69 फीसदी स्मार्ट फोन बाजार पर है चीन का कब्जा

1.चीनी कंपनियां हर सैंकड भारत में बेचती है 3 स्मार्टफोन

2.2019 में चीन ने भारत में 10.3 करोड़ स्मार्टफोन बेचे

3.51500 करोड़ रुपए का चीनी आयात 2019 में

Corona virus
Show More
KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned