50 से बढ़कर 90 करोड़ पहुंचा काली कमाई का आंकड़ा, सिविल कान्ट्रेक्टर ने समर्पित की 20 करोड़ की अघोषित आय

50 से बढ़कर 90 करोड़ पहुंचा काली कमाई का आंकड़ा, सिविल कान्ट्रेक्टर ने समर्पित की 20 करोड़ की अघोषित आय

Rajesh Tripathi | Updated: 02 Aug 2019, 11:19:53 PM (IST) Kota, Kota, Rajasthan, India

प्लाइवुड कारोबारी के यहां जारी है कार्रवाई , अकलेरा के व्यापारी के यहां 110 किलो चांदी मिली

कोटा. आयकर विभाग की इंवेस्टीगेशन विंग की कोटा के दो व्यापारिक समूह के यहां छापेमारी और सर्च की कार्रवाई शुक्रवार देर रात तक जारी रही। देर रात तक अघोषित आय का आंकड़ा 90 करोड़ के करीब पहुंच गया है। इसमें 50 करोड़ की अघोषित आय तो स्वीकार कर ली गई है। अकलेरा के व्यापारी के यहां 110 किलो चांदी मिली है, जिसका कोई रिकॉर्ड नहीं मिला। यहां कार्रवाई शनिवार को भी जारी रहने की संभावना है।

आयकर विभाग का कारनामा. गलत घर की दीवार फांद कर
घुस गए ,मचा हड़कम्प

आयकर विभाग की उदयपुर और जयपुर की टीमों ने कोटा, बारां तथा अकलेरा में 35 प्रतिष्ठानों पर गुरुवार सुबह कार्रवाई शुरू की थी। बारां और अकलेरा में कार्रवाई पूरी हो गई। कोटा में भी ज्यादातर प्रतिष्ठानों पर देर रात तक कार्रवाई पूरी कर ली। अब दोनों समूह के मुख्य कार्यालयों व घरों पर कार्रवाई जा रही है और जब्त रिकॉर्ड का परीक्षण किया जा रहा है। इंवेस्टीगेशन विंग उदयपुर के संयुक्त निदेशक एम. रघुवीर व उप निदेशक अजीतेश कुमार कार्रवाई को अंतिम रूप देने में जुटे हुए हैं। उप निदेशक अजीतेश कुमार ने बताया कि 50 करोड़ की अघोषित आय सामने आ चुकी है। अब तक जब्त दस्तावेजों, नकदी, ज्वैलरी आदि के आकलन करने पर अघोषित आय का आंकड़ा 90 करोड़ तक पहुंचने की संभावना है। कैश लेने देने को लेकर परीक्षण किया जा है।

बिल्डर्स समूह के प्रतिनिधियों का कहना है कि कैश लेने देने की पर्चियां पूरे सालभर की है, जबकि अधिकारी एक माह की मान रहे हैं। प्लाइवुड कारोबारी के यहां दस्तावेजों का परीक्षण किया जा रहा है। स्टॉक की जांच भी अभी चल रही है। सिविल कॉन्ट्रेक्टर ने बीस करोड़ की अघोषित आय समर्पित कर दी है। कार्रवाई पूरी होने में दो-तीन दिन लगेंगे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned