टॉप-200 रैंक में भी जगह नहीं बना पाया कोटा विश्वविद्यालय

कोटा विवि एनआईआरफ रैंकिंग में अपनी जगह नहीं बना पाया है

 

 

By: KR Mundiyar

Updated: 11 Jun 2020, 10:27 PM IST

कोटा. मानव संसाधन मंत्रालय (MHRD) ने देश के शीर्ष आईआईटी, आईआईएम और विश्वविद्यालयों की एनआईआरफ रैंकिंग सूची जारी की गई। सूची में इस साल कोटा विश्वविद्यालय कोटा 200 रैंकिंग में भी जगह नहीं बना पाया। कोटा विवि पिछले दो साल से रैंकिंग में पिछड़ता जा रहा है।

Read More रिश्वत प्रकरण : जो मांगे वही लूंगा, एक रुपए भी कम नहीं होगा..

विवि के सूत्रों ने बताया कि कोटा विवि ने 2016 व 2017 में जरुर अच्छी रैंकिंग हासिल की थी, लेकिन उसके बाद कोटा विवि में लगातार टीचिंग व अन्य संसाधनों की कमी से लगातार पिछड़ता जा रहा है। कोटा विवि में वर्तमान में मात्र 22 प्रोफेसर व एसोसिएट प्रोफेसर ही है। जबकि विवि के पास पैसा भी अच्छा खासा है। विद्यार्थियों की संख्या भी अच्छी है। विवि के नियमित विद्यार्थी लगभग 1200 से 1400 है। जबकि रजिस्टर्ड 2 लाख 70 हजार विद्यार्थी है। रैंकिंग में विवि के लेक्चर व उसकी पढ़ाई को लेकर ही देखा जाता है, लेकिन कोटा विवि के लेक्चर की जबरदस्त कमी है। इसी कारण कोटा विवि एनआईआरफ रैंकिंग में अपनी जगह नहीं बना पाया है

Show More
KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned