प्रयोगशाला सहायक की संदिग्ध अवस्था में मौत

स्क्रीनिंग के बाद था होम क्वारंटाइन

By: Mukesh

Published: 28 May 2020, 11:42 PM IST

कोटा. बोरखेड़ा थाने की प्रतापनगर द्वितीय कॉलोनी में गुरुवार को एक प्रयोगशाला सहायक का शव फंदे पर लटका मिलने से हड़कंप मच गया। पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

थानाधिकारी रामेश्वर चौधरी ने बताया कि मूलत: कोटा ग्रामीण के इटावा थाना क्षेत्र के केशवपुरा गांव निवासी प्रयोगशाला सहायक मुरारीलाल मीणा (35) सीएमएचओ कार्यालय में प्रयोगशाला सहायक के रूप में कार्यरत था। उसे भीमगंजमंडी थाना क्षेत्र में कोरोना की स्क्रीनिंग करने वाली टीम में लगाया था, जहां उसने 22 मई तक स्क्रीनिंग की। इसके बाद कोरोना संदिग्ध होने पर उसे होम क्वारंटाइन कर दिया। रविवार को वह पत्नी के साथ ससुराल पक्ष में विवाह समारोह में गया था, जहां पत्नी को छोड़कर लौट आया था। इसके बाद से वह अकेला रह रहा था। गुरुवार सुबह पुलिस को उसकी मौत की सूचना मिली। पुलिस मौके पर पहुंची तो कमरे में खिड़की पर लगे फंदे से मुरारीलाल लटका मिला। घटना के बाद एएसपी दिलीप कुमार सैनी और वृताधिकारी कल्पना सोलंकी मौके पर पहुंची तथा जांच पड़ताल की। उसके कमरे से शराब की बोतलें बरामद हुई। एफएसएल टीम ने नमूने लिए हैं। शुक्रवार को मृतक का पोस्टमार्टम चिकित्सकों के मेडिकल बोर्ड से करवाया जाएगा। खबर लगते ही मुरारीलाल का भाई बीएसएफ बाड़मेर से कोटा के लिए रवाना हो गया। प्रथम दृष्टया घटना बुधवार रात की लग रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned