scriptRajasthan: Seven including four sisters died due to drowning in water | राजस्थान में हादसे: पानी में डूबने से चार बहनों सहित सात की मौत | Patrika News

राजस्थान में हादसे: पानी में डूबने से चार बहनों सहित सात की मौत

कोटा जिले के चेचट, झालावाड़ जिले के सुनेल और चित्तौडगढ़़ जिले के रावतभाटा के पास पानी में डूबने से चार बहनों, दो सगे भाइयों सहित 7 जनों की मौत हो गई। इससे कोहराम मच गया। तमलाव गांव में एक साथ चार बेटियों की अर्थी निकली तो सब रो पड़े।

कोटा

Published: October 16, 2021 08:34:10 pm

कोटा. कोटा जिले के चेचट, झालावाड़ जिले के सुनेल और चित्तौडगढ़़ जिले के रावतभाटा के पास पानी में डूबने से चार बहनों, दो सगे भाइयों सहित 7 जनों की मौत हो गई। रावतभाटा के पास तमलाव गांव में एक ही परिवार की चार बहनें तलाब में नहाने गई थीं, उनकी डूबने से मौत हो गई। रावतभाटा में सुरेश सिंह आरपीसी कॉलोनी में रहते हैं और दूसरा भाई हेमेन्द्र सिंह तमलाव में रहता है। दोनों की दो-दो की बेटियां थीं। हादसे की सूचना के बाद क्षेत्र में मातम पसर गया। वहीं झालावाड़ जिले के आकोदिया गांव में भैंस चराने गए दो सगे भाइयों की आहू नदी में डूबने से मौत हो गई। इसी तरह कोटा जिले के चेचट थाना क्षेत्र के गांव हथौना में पानी भरने गए भाई-बहन कुएं में गिर गए और भाई की मौत हो गई।
कोहराम मचा, अर्थी निकली तो सब रो पड़े
charsister.jpg
रावतभाटा. रावतभाटा के पास तमलाव गांव में एक साथ चार बेटियों की अर्थी निकली तो सब रो पड़े। पूरे इलाके में कोहराम मच गया। मृतकों में सुरेन्द्र सिंह की पुत्री निशा (22) और आशा (24) और हेमेन्द्र सिंह की पुत्री निकिता (18) और चिंकी (16 ) शामिल हैं। बेगंू विधायक राजेन्द्र सिंह विधुड़ी और प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे।
पहले एक डूबी उसे बचाने में तीन बहनें डूब गई
ग्राम तमलाव निवासी हेमेन्द्र सिंह की दो बेटियां और भाई सुरेंद्र सिंह राजपूत की बेटियां सुबह 11.30 बजे खुद के खेत में बने तालाब में नहाने गई थीं। वहां एक बहन का पैर फिसलने से गहरे तालाब में डूबने लगी। उसे बचाने के प्रयास में तीन बहनें भी तालाब के गहरे पानी में समा गईं। दोपहर तक भी उनके घर नहीं लौटने पर परिजन तालाब पर पहुंचे तो उनके डूबने का पता चला। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। चारों बहनों का उपवास था, इसलिए वे खाना भी साथ लेकर गई थीं। वे मोबाइल, चप्पल और खाने का टिफिन बाहर छोड़कर नहाने गई थी। काफी देर बाद वहां सिंघाड़े की खेती करने वाले व्यक्ति ने तलाब के बाहर यह सामान देखा तो घरवालों को सूचना दी। इसके बाद ग्रामीणों की मदद से उन्हें बाहर निकाला गया, तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।
उपखंड अधिकारी मुकेश मीणा, डीएसपी झाबरमल, सीआई राजाराम गुर्जर मौके पहुंचे। उन्होंने कहा प्रशासन की ओर से जो भी मदद होगी, वह दिलवाई जाएगी। चित्तौडगढ़़ जिला कलक्टर ताराचंद मीणा दाह संस्कार स्थल पर पहुंचे। उन्होंने सुरेंद्र सिंह और हेमेंद्र सिंह से जानकारी ली और उन्हें ढांढ़स बंधाया।
भैंसें निकालने आहू नदी में उतरे दो भाइयों की डूबने से मौत
सुनेल (झालावाड़) जिले के आकोदिया गांव में शनिवार सुबह करीब 11 बजे भैंस चराकर आ रहे दो सगे भाइयों की आहू नदी में डूबने से मौत हो गई। सूचना पर तुरंत पुलिस और राजस्व विभाग की टीम पहुंची और ग्रामीणों के साथ रेस्क्यू किया। इसमें दोनों बालकों के शव मिले।
थानाधिकारी मनसीराम विश्नोई ने बताया कि अकोदिया गांव निवासी कालूलाल गुर्जर परिवार के साथ रहता है और खेती का काम करता है। उसके दोनों बच्चे आनंद (7) और विकास (12) सुबह भैंसों को चराने घर से निकले थे। दोपहर करीब ग्यारह बजे दोनों बच्चे आहू नदी के पास भैंसें चरा रहे थे। तभी भैंसें नदी में उतर गई। पानी में बैठी भैंसों को बाहर निकलने के लिए आनंद पानी में उतरा और डूबने लगा। उसे बचाने के लिए बड़ा भाई विकास भी पानी में कूद गया। दोनों तैरना नहीं जानते थे। इस वजह से नदी में डूब गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। गोताखोरों व ग्रामीणों ने नदी में तलाश की। शाम चार बजे विकास का शव मिल गया। आनंद का शव भी करीब साढ़े पांच बजे मिला। बच्चों के माता-पिता और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। गांव में मातम छा गया। पुलिस ने दोनों बच्चों का सुनेल चिकित्सालय में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा।
कुएं में गिरे भाई-बहन, भाई की मौत
कोटा जिले के चेचट थाना क्षेत्र के गांव हथौना में शनिवार को भाई-बहन कुएं से पानी भरने गए थे। पैर फिसलने से दोनों कुएं में गिर गए। इनमें से आठ वर्षीय भाई की डूबने से मौत हो गई। बहन कुएं की सीढ़ी पकड़ कर बाहर निकल गई। सूचना पर मौके पर पंहुचे ग्रामीणों ने गोताखोर की सहायता से चार घंटे की मशक्कत के बाद शव को निकाला।
पुलिस के अनुसार हाथौना निवासी रामलाल गुर्जर का आठ वर्षीय पुत्र गणेश व दस वर्षीय बालिका पानी भरने गए थे। कुएं में सीढ़ी उतरते समय पैर फिसलने से दोनों गिर गए। बालिका तो कुएं की सीढ़ी से बाहर आ गई, लेकिन बालक गणेश कुएं में डूब गया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.