scriptRemoval of stone for afforestation | पत्थरों का सीना चीर, कर दी हरियाली | Patrika News

पत्थरों का सीना चीर, कर दी हरियाली

नेशनल हाइवे के दोनो तरफ विकसित हो रहा जंगल, शहर के कई संगठन कर रहे भागीदारी । 740 हेक्टेयर क्षेत्र में 50 हजार से ज्यादा पौधे लगाए, इस मानसून में 60 हजार से ज्यादा पौधे लगाने का लक्ष्य ।

कोटा

Published: June 30, 2022 12:51:17 pm

जयप्रकाश सिंह
शहर के समीप से गुजर रहे राष्ट्रीय राजमार्ग के दोनों तरफ पठारी क्षेत्र की सूरत बदलने लगी है। पर्यावरण संरक्षण की दिशा में काम करने वाली शहर की आधा दर्जन संस्थाओं ने वन विभाग के साथ मिलकर यहां पत्थरों का सीना चीरकर चारों तरफ हरियाली कर दी। रावतभाटा रोड पर आंवली-रोझड़ी से लेकर उम्मेदगंज नहर तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर करीब 15 किलोमीटर क्षेत्र में पौधारोपण कार्य छह साल पहले शुरू हुआ था। राष्ट्रीय राजमार्ग के दोनों तरफ एक किलोमीटर दूरी में कुल दो हजार हेक्टेयर क्षेत्र में वन विभाग ने तीन लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है।
Green plants and Fresh Air
Green plants and Fresh Air

25 करोड़ होंगे खर्च : वन विभाग ने पौधारोपण के साथ ही इनकी सुरक्षा के लिए चारों तरफ चारदीवारी बनाई है। इस पर करीब 25 करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं। वन विभाग नियमित रूप से टैंकर से पौधों को पानी पिला रहा है। इस प्रयास से वन भूमि पर अतिक्रमण पर अंकुश भी लगा है।
ये पौधे लगाए : नीम, शीशम, चुरेल, बरगद, पीपल खैर, पलाश, धाक, रांज,कुमठा के पौधे शामिल हैं। इसके अलावा जंगल के लिए कई तरह की घास, वनस्पति और झाडिय़ां भी उगाई गई है।

दो एनिकट की योजना
वन विभाग क्षेत्र में गुजर रहे भड़क्या खाळ में दो एनिकट बनाने की योजना बना रहा है। इससे जलस्तर बनेगा, पेड़-पौधों को पानी पिलाने में सहूलियत( Convenience) रहेगी।
पत्थरों में ब्लास्ट कर गड्ढे खोदे
पथरीली जमीन होने के कारण यहां पौधे लगाना चुनौतीपूर्ण था। वन विभाग ने यहां पत्थरों में विस्फोट कर एक गुणा एक वर्गमीटर के गहरे और चौड़े गड्ढे खुदवाए और उसमें उपजाऊ मिट्टी भरवाई। इसके बाद पौधे लगाए गए। इस तरह की तकनीक प्रदेश में जोधपुर के माचिया बायोलोजिकल पार्क में भी अपनाई गई है।
स्वयंसेवी संस्थाओं ने गोद लिया
वनविभाग ने इस जमीन पर वर्ष 2016 से विभिन्न टुकड़ों में पौधारोपण शुरू किया गया। विभाग ने शहर की हमलोग, गायत्री परिवार, कोटा यूथ सोसायटी, गणेशनगर उद्यान समिति, कोटा सिटी ब्लॉग समेत विभिन्न संस्थाओं को इन पौधों के रखरखाव की जिम्मेदारी दी। पिछले दो साल में इस इलाके में पथरीली जमीन की जगह हरियाली नजर आने लगी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएमनाम लिए बिना PM मोदी पर नीतीश का हमला, बोले- '2014 वाले 2024 में रहेंगे तब न, विपक्ष में हमलोग आ गए हैं अब सब होगा'Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली सीएम पद की शपथ, तेजस्वी बने डिप्टी CM, कैबिनेट विस्तार बाद मेंINS Vikrant Cheating Case: बीजेपी नेता किरीट सोमैया और उनके बेटे नील को मिली बेल, जानें क्या है आईएनएस विक्रांत चीटिंग मामलाAAP का BJP पर बड़ा आरोप- दिल्ली MCD में 6000 करोड़ रुपए का हुआ घोटाला, CBI जांच के लिए मनीष सिसोदिया ने उपराज्यपाल को लिखा पत्रMaharashtra: प्रियंका चतुर्वेदी की बड़ी भविष्यवाणी-गिर जाएगी शिंदे सरकार, फडणवीस पर भी साधा निशानाअदालत न देती दखल तो तेजस्विन शंकर नहीं जीत पाते ब्रॉन्ज मेडल, दिलचस्प है कॉमनवेल्थ गेम्स तक का सफरड्रग केस में फंसे अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को बड़ी राहत , पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से मिली जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.