राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड ने योजना को गति देने के लिए किया एमओयू

राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड ने योजना को गति देने के लिए किया एमओयू

Shailendra Tiwari | Publish: Sep, 10 2018 09:17:21 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

शहर में वर्ष 2022 तक 20 हजार घरों में गैस आपूर्ति का लक्ष्य रखा है। अभी कोटा में 645 घरों में पीएनजी की आपूर्ति हो रही।

कोटा. राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड की ओर से प्राकृतिक घरेलू गैस की आपूर्ति करने की परियोजना को गति देने के लिए निजी डवलपर्स के साथ मिलकर कंपनी कार्य करेगी। कोटा शहर में वर्ष 2022 तक 20 हजार घरों में गैस आपूर्ति का लक्ष्य रखा है। अभी कोटा में 645 घरों में पीएनजी की आपूर्ति हो रही। आगामी तीन माह में इनकी संख्या बढ़कर करीब 3200 हो जाएगी।

राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड के प्रबंध निदेशक रवि अग्रवाल सोमवार को कोटा आए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने एक साल पहले कोटा में क्लीन एनर्जी नेटवर्क का उद्घाटन किया था। इस नेटवर्क के माध्यम से पहले चरण में पाइप लाइन से 3 हजार घरेलू गैस कनेक्शन, 9 वाणिज्यिक कनेक्शन एवं 24 औद्योगिक कनेक्शन का लक्ष्य तय किया गया था। इस योजना को आगे बढ़ाने के लिए नगर विकास न्यास की आवासीय योजना प्रेमनगर, कंसुआ, लैंडमार्क क्राउन, लैंडमार्क सिटी, सिटी सेन्टर हाइट्स, महाक्ष्मीपुरम् सहित कई कॉलोनियों को पीएजी पाइप लाइन से जोडऩे की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। सैन्य क्षेत्र में 38 मैसों में भी पीएनजी की आपूर्ति की जाएगी। उन्होंने बताया कि एलपीजी गैस की तुलना में यह 30 प्रतिशत सस्ती पड़ती है और पाइप लाइन से इसकी आपूर्ति सुरक्षित है।

उन्होंने सोमवार को मैसर्स शुभम् ग्रुप के साथ एमओयू भी किया। इस पर ग्रुप की ओर से निदेशक दीपक राजवंशी ने हस्ताक्षर किए। इस दौरान ग्रुप निदेशक अरुण मेहता, राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड के अधिकारी आर.के. मीना और अमृत कौर भी मौजूद रहे। एमओयू के तहत शुभम् ग्रुप और राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड गैस आपूर्ति के लिए पाइप लाइन बिछाई जाएगी।

सीएनजी स्टेशन खुलेंगे

राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड के अधिकारियों ने बताया कि कोटा में छह नए सीएनजी स्टेशन खोले जाने की योजना तैयार की गई है। अभी दो स्टेशन संचालित हैं, जहां लम्बी कतार लगती है।

फैक्ट

22 राज्यों के 174 जिलों को इस योजना में शामिल किया है।

6 जिले राजस्थान के हैं।

20 हजार कनेक्शन कोटा सिटी में आगामी चार साल देने का लक्ष्य।

35 हजार कनेक्शन चार साल में देने की योजना तैयार की है।

34 वाणिज्यिक कनेक्शन देने का लक्ष्य।

43 औद्योगिक कनेक्शन देने का लक्ष्य।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned