शरद पूर्णिमा महोत्सव पॉलीथिन मुक्त होगा, खीर कुल्हड़ में, प्रसाद थैले में

शरद पूर्णिमा महोत्सव पॉलीथिन मुक्त होगा, खीर कुल्हड़ में, प्रसाद थैले में
Sharad Purnima Festival will be polythene free

Deepak Sharma | Updated: 12 Oct 2019, 01:16:17 AM (IST) Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. राजस्थान पत्रिका की पहल पर नगर निगम की ओर से दशहरा मेले को पॉलीथिन मुक्त आयोजित करने का संकल्प लेने के बाद अब यह जन जागृति की मुहिम बन चुकी की है।

कोटा. राजस्थान पत्रिका की पहल पर नगर निगम की ओर से दशहरा मेले को पॉलीथिन मुक्त आयोजित करने का संकल्प लेने के बाद अब यह जन जागृति की मुहिम बन चुकी की है। श्रीसालासर सेवा समिति ने पत्रिका की मुहिम से प्रेरित होकर 13 अक्टूबर को होने वाले शरद पूर्णिमा महोत्सव को पॉलीथिन मुक्त बनाने का संकल्प किया है। इस आयोजन में पॉलीथिन का कोई उपयोग नहीं किया जाएगा।
पॉलीथिन मुक्त आयोजन बनाने के लिए महोत्सव में प्रसाद वितरण के लिए कपड़े के पांच हजार प्रिंटेड थैले तैयार करवाए गए हैं। प्रसाद वितरण इन थैलों में ही किया जाएगा। खीर के लिए मिट्टी के कुल्हड़ (गिलास) मंगवाए गए हैं। कार्यक्रम में चाय भी कुल्हड़ में ही पिलाई जाएगी।

समिति के महासचिव जितेन्द फतनानी ने बताया कि पांच हजार भक्तजनों के लिए प्रसादी तैयार की जाएगी। शुक्रवार को समिति के संस्थापक अध्यक्ष पवन अग्रवाल, अध्यक्ष श्याम लाखोटिया, महासचिव फतनानी, कोषाध्यक्ष कृष्णकांत माहेश्वरी, राजीव भारती, अशोक अटल, अशोक नदवानी, राजेन्द्र बारूला, प्रदीप माहेश्वरी, मोन्टू पाराशर, राजीव झंवर आदि ने इन्द्रप्रस्थ औद्योगिक क्षेत्र में आयोजित कार्यक्रम में पॉलीथिन मुक्त महोत्सव आयोजित करने का संकल्प लेते हुए विशेष प्रकार के तैयार करवाए गए थैले जारी किए गए।

51 किलो के चूरमा का लगेगा भोग

समिति अध्यक्ष लाखोटिया ने बताया कि शरद पूर्णिमा महोत्सव व भक्तिमय भजन संध्या 13 अक्टूबर को रात 8.30 बजे झालावाड़ रोड स्थित शुभम गार्डन में आयोजित की जाएगी। इसमें सालासर बालाजी के 51 किलो के चूरमा का भोग लगेगा। 401 किलो का चूरमा और 401 किलो के दूध की खीर प्रसाद के लिए तैयार की जाएगी। बाबा की झांकी सजाई जाएगी। बिजनौर की भजन गायिका आकांशा मित्तल, गाजियाबाद के रामकुमार लक्खा भजन पेश करेंगे।

पत्रिका ने जगाई अलख
राजस्थान पत्रिका ने दशहरा मेले को पॉलीथिन मुक्त आयोजित करने की मुहिम शुरू की। मेले के आयोजन में इसका सफल संदेश देखा गया है। इसके बाद सालासर सेवा समिति ने भी पत्रिका की पहल से प्रेरित होकर पॉलीथिन मुक्ति का संदेश देने के लिए पहली बार शरद पूर्णिमा महोत्सव को पॉलीथिन मुक्त आयोजित करने का संकल्प लिया है। पहले प्रसाद पॉलीथिन में तथा खीर डिस्पोजल में वितरित की जाती थी, लेकिन इस बार कुल्हड़ में खीर और कपड़े के थैले में प्रसाद वितरित करेंगे।

- पवन अग्रवाल, संस्थापक अध्यक्ष, श्रीसालासर सेवा समिति

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned