प्रेम प्रसंग के चक्कर में कर दी दोस्त की हत्या, इस तरह रची मारने की साजिश

पुलिस ने कम समय में ही आरोपी का पता लगा लिया, जिसने बताया कि प्रेम प्रसंग के चलते उसने देवेंद्र की जान ली

By: Karishma Lalwani

Updated: 18 Dec 2018, 05:03 PM IST

ललितपुर. यूपी में हर छोटी बड़ी बात को लेकर क्राइम ग्राफ बढ़ता जा रहा है। कभी जमीन विवाद को लेकर हत्या कर दी जाती है, तो कभी प्रेम प्रसंग को लेकर। ऐसा ही एक मामला ललितपुर में हुआ, जहां आशिकी के चक्कर में एक युवक ने दूसरे युवक की जान ले ली। शनिवार रात अपने दोस्त से मिलने गया देवेंद्र की लाश सुबह झाड़ियों के पास मिली। हत्याकांड की पड़ताल में जुटी पुलिस ने कम समय में ही आरोपी का पता लगा लिया, जिसने बताया कि प्रेम प्रसंग के चलते उसने देवेंद्र की जान ली।

दोस्त ने ली जान

घटना स्थल पर मौजूद एक व्यक्ति ने पुलिस को बताया कि मृतक देवेंद्र के मोबाइल पर उसके किसी दोस्त का फोन आया था। वह अपने दोस्त से मिलने निकल गया था लेकिन घर नहीं लौटा। काफी तलाश करने के बाद उसका कुछ पता नहीं चला और मोबाइल भी स्विच ऑफ आ रहा था। उसके बाद उसकी लाश सदर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत हवाई पट्टी के पास झाड़ियों से बरामद हुई, जहां उसकी हत्या पत्थर से सिर कुचलकर की गई थी।

लड़की के लिए कर दी हत्या

मृतक देवेंद्र का मोबाइल स्विच ऑन कर पुलिस ने सर्विलांस टीम की मदद से कॉल डिटेल्स निकाली। मोबाइल का आखरी कॉल गांव के ही एक व्यक्ति वीरसिंह का था। वीरसिंह से पूछताछ करने पर पता लगा कि वह आखिरी बार प्रदीप अहिरबार के साथ देखा गया था। पुलिस ने मुखविर की निशान देही पर प्रदीप अहिरबार को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में प्रदीप ने बताया कि वह जिस लड़की से प्यार करता है, उसका देवेंद्र के साथ बोलचाल ज्यादा था। इस वजह से वह देवेंद्र को अपने रास्ते का रोड़ा मानता था। इस वजह से उसने अपने दोस्तों वीरसिंह अहिरबार, अभय साहू, हरभजन अहिरबार व दिनेश अहिरबार के साथ मिलकर देवेंद्र को रास्ते से हटाने की योजना बनाई।

इस तरह रची हत्या की साजिश

योजना के अनुसार वीरसिंह ने फोन करके देवेंद्र को हवाई पट्टी पर बुलाया और वहां लेकर गया जहां उक्त चारों उसे मारने के इंतजार में थे। घटना स्थल पर उसका गला दबा कर हत्या करने की कोशिश की गई लेकिन जब वे इसमें नाकामयाब हुए, तो पत्थर से उसका सिर फोड़ दिया। प्रदीप के अनुसार बताए गए 4 आरोपी फरार हैं। कम समय में खुलासा करने वाली टीम को पुलिस अधीक्षक एमएम बेग ने 25,000 रुपये इनाम देने की घोषणा की।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned