उमा भारती ने कांग्रेस को दिखाया आईना, शर्मनाक, सिर्फ 3 सीटों पर बचा सकी अपनी जमानत

बढ़ती महंगाई और दिल्ली की हार पर पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती का बड़ा व्यान
जिस रेसियों में महंगाई बढ़नी थी उसके हिसाब से अभी सबसे निचले स्तर पर
राम मंदिर के लिए बनाए गए ट्रस्ट सही

ललितपुर. भाजपा की फायर ब्रांड नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री उमा भारती अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहती हैं। अपने अल्प प्रवास पर ललितपुर पहुंची पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने देश में बढ़ती मंहगाई और दिल्ली में भाजपा की हार पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि महंगाई का जो बढ़ने वाला अनुपात था उसके हिसाब से महंगाई अभी सबसे निचले स्तर पर है। कुछ अंतरराष्ट्रीय ऐसे मसले है जिनके कारण कुछ चीजों के दाम बढ़े हैं और इसके लिए देश की जनता मोदी सरकार के साथ है। कुछ पार्टियां इस पर शोर जरूर मचा रहे हैं लोगों को कोई तकलीफ नहीं।

इसके साथ ही दिल्ली में सम्पन्न हुए चुनावों में भाजपा की हार को नजरंदाज करते हुए उमा भारती ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उमा भारती ने कहा कि दिल्ली में भाजपा की हार से ज्यादा शर्मनाक हार कांग्रेस के लिए है अगर कोई चिंता का विषय है तो वह कांग्रेस के लिए है। कांग्रेस के लिए इससे ज्यादा शर्मनाक बात और कोई नहीं हो सकती कि लगभग 67 सीटों पर उनकी जमानत जब्त हुई है वह केवल 3 सीटों पर ही अपनी जमानत बचाने में कामयाब हो पाई है। मुझे लगता है कि इस समय किसी भी पार्टी के लिए चिंता का विषय है तो वह है कांग्रेस और यह स्थिति कांग्रेस की तब बनी जब कांग्रेस के नेताओं ने सीएए का विरोध करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। दिल्ली में हमारा वोट बैंक बड़ा है और कई राज्यों में हम जीते हैं। इसके साथ ही उन्होंने राम मंदिर के लिए बनाए गए ट्रस्ट पर अपनी सहमति भी जताई।

आगामी चुनाव लड़ने पर उन्होंने कहा कि यह मुद्दा पार्टी का मुद्दा है जैसा निर्देश होगा वैसा काम करूंगी। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस के पूर्व सांसद प्रदीप जैन आदित्य और वर्तमान सांसद अनुराग शर्मा की कार्यप्रणाली की तारीफ करते हुए कहा कि दोनों ही सांसद घूमने वाले हैं और मैं शारीरिक शिथिलता के कारण ज्यादा घूम नहीं पाती। मैं इनके कार्यकाल से खुश हूं क्योंकि यह घूमकर जनता की समस्याओं का समाधान करते रहते हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती अपने पैतृक ग्राम मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ अंतर्गत ग्राम डूडा से दिल्ली जाते समय ललितपुर अल्प प्रवास के लिए रुकी थी।

Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned