विद्युत विभाग को लगाया लाखों रुपये का चूना, इलेक्ट्रॉनिक मीटरों की तकनीक में छेड़छाड़ का मामला

विद्युत विभाग को लगाया लाखों रुपये का चूना, इलेक्ट्रॉनिक मीटरों की तकनीक में छेड़छाड़ का मामला

Karishma Lalwani | Updated: 14 Jun 2019, 02:57:43 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

ललितपुर में इलेक्ट्रॉनिक मीटरों की तकनीकि में छेड़छाड़ कर उसे धीमी गति से चलाकर लाखों रुपये का चूना लगाने का ममाला सामने आया है

ललितपुर. ठप बिजली व्यवस्था गर्मी की मार को और बढ़ावा देती है। ग्रामीण क्षेत्रों यह समस्या और भी ज्यादा है। वहीं कई बार ट्रांसफार्मर खराब होने से ये परेशानी त्रिगुनी हो जाती है। लेकिन ललितपुर में एक मामला ऐसा सामने आया है, जहां बिजली सप्लाई तो सही है लेकिन कुछ लोग इलेक्ट्रॉनिक मीटरों की तकनीकि में छेड़छाड़ कर उसे धीमी गति से चलाकर लाखों रुपये का चूना लगाते हैं।

विद्युत विभाग ने मारा छापा

विद्युत विधाग के अधिकारियों को इलेक्ट्रॉनिक मीटरों की तकनीकि में हेरफेर की सूचना दी गई। जानकारी होने पर वे कई बार कार्रवाई के लिए भी आए लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लगी। इस बार विद्युत विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने मुखबिर की सटीक सूचना के आधार पर पुलिस की मदद से जब एक चिन्हित स्थान रेल्वे स्टेशन के पास मेन रोड पर छापामार कार्रवाई की, तो वहां पर एक कमरे में अवैध रूप से रखे 298 विद्युत मीटरों को मौके से बरामद किया। उन्होंने एक युवक भी पकड़ा गया जो मौके पर मीटर की रफ्तार को धीमा करने का काम कर रहा था।

होगी उच्चस्तरीय जांच

पूछताछ के दौरान पकड़े गए युवक ने अपना नाम सोनू पंथ निवासी रामनगर सदर कोतवाली क्षेत्र बताया। उसने यह बताया कि वह यहां पर एक दुकान लेकर रेडीमेड कपड़ा बेचने का काम करता था और उसी दुकान की आड़ में इलेक्ट्रॉनिक मीटरों को धीमा करने का गोरखधंधा ही चला रहा था। फिलहाल विद्युत विभाग के अधिकारियों ने पुलिस की मौजूदगी में मौके से पकड़े 298 विद्युत मीटरों को सील कर अपने कब्जे में लेकर जांच के लिए भेज दिया है विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता शेलेन्द्र कटियार का कहना है कि इस मामले में उच्चस्तरीय जांच भी कराई जाएगी। यह भी पता लगाया जाएगा कि विद्युत विभाग को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से इस तरह का जो कार्य किया जा रहा था इसमें कितने और व्यक्ति संलिप्त हैं। यह भी पता लगाया जाएगा कि जप्त किए गए मीटरों में कितने मीटर अनाधिकृत रूप से उनके पास थे और कितने मीटर विद्युत उपभोक्ताओं के हैं, जो विद्युत उपभोक्ता इस तरह के कार्य में संलिप्त हैं उनके खिलाफ भी विधिक एक्शन लिया जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned