यूपी में बाढ़ से हाहाकार, ललितपुर में हेलीकॉप्टर से सुरक्षति निकलवाये सभी ग्रामीण

यूपी में बाढ़ से हाहाकार, ललितपुर में हेलीकॉप्टर से सुरक्षति निकलवाये सभी ग्रामीण

Mahendra Pratap | Publish: Sep, 03 2018 01:18:00 PM (IST) | Updated: Sep, 03 2018 06:38:37 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बेतवा के तटवर्ती और निचले इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया गया है

ललितपुर. जनपद में पिछले 10 दिनों से हो रही लगातार आफत की बारिश से यहां की नदियों का जलस्तर अचानक बढ़ने लगा है। जिससे राजघाट और माताटीला बांधों से भारी मात्रा में पानी छोड़ा जा रहा है। बेतवा के तटवर्ती और निचले इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया गया है। आसपास रहे ग्रामीणों को भी इस बात से अवगत करा दिया गया है। इसके बावजूद कुछ ग्रामीण चरवाहे अपने जानवरों को लेकर तटवर्ती इलाकों में चले गए और वहां नदी में अचानक बढ़े जलस्तर के कारण वहां फस गए।

हेलीकॉप्टर भेज कर की गयी मदद

थाना पुराकलां क्षेत्र के सुकवां दुकवां बांध के पास माताटीला बांध से भारी मात्रा में छोड़े गए पानी से बेतवा नदी में आई अचानक बाढ़ में टापू पर फंसे 7- 8 ग्रामीण फंस कर रह गए। इसकी सूचना प्रशासन को दी गई। सूचना पर जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने सेना से ग्रामीणों को बचाने के लिए मदद व हेलीकॉप्टर के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन टीम की मांग की। जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह की रिक्वेस्ट पर सेनानी रेस्क्यू टीम के साथ हेलीकॉप्टर को भी भेजा जहां पर पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने कड़ी मशक्कत करते हुए सेना से मदद लेकर टापू पर फंसे सभी 7 रेस्क्यू ऑपरेशन में हेलीकाप्टर से सभी 7 ग्रामीणों को सुरक्षित निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है।

बाढ़ के कारण नदी में गिरी बस

बेतवा नदी के तटवर्ती ग्राम वर्मा बिहार के आसपास के क्षेत्रों में भी अचानक पानी भर गया जहां नाव के जरिए ग्रामीणों को निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। ऐसी ही थाना बालाबेहट के पास सोंर नदी का पुल पार करते समय बाढ़ के पानी में एक बस बहकर नदी में गिर गई। सूचना पर पहुंची पुलिस टीम ने स्थानीय ग्रामीणों की मदद से बस में सवार सभी यात्रियों को निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि अगर एक-दो दिन और ऐसी ही बारिश होती रही, तो जनपद के हालात बहुत खराब हो जाएंगे ।

Ad Block is Banned