20 करोड़ से अधिक स्टूडेंट्स और शिक्षकों को Microsoft के प्रोडेक्ट्स पर भरोसा: नडेला

  • सीईओ ने कहा कि वर्ष 2020 के अंत तक माइक्रोसॉफ्ट टीमों की पहुंच 11.5 करोड़ से भी ज्यादा डेली यूजर्स तक हो गई थी।

By: Mahendra Yadav

Published: 27 Jan 2021, 04:20 PM IST

विश्व की प्रमुख सॉफ्टवेयर कम्पनी माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) सत्या नडेला ने कहा है कि दुनियाभर में 20 करोड़ से भी अधिक विद्यार्थी एवं शिक्षक रिमोट लर्निग के लिए फिलहाल माइक्रोसॉफ्ट एजुकेशन प्रोडक्ट्स पर ही भरोसा करते हैं। कम्पनी की दूसरी तिमाही (2021) के सिलसिले में आयोजित बैठक में विश्लेषकों से विचार-विमर्श के दौरान नडेला ने कहा कि आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस (AI) के क्षेत्र में कम्पनी सबसे बेहतरीन उपकरण, फ्रेमवर्क और इन्फ्रास्ट्रक्चर मुहैया करवाती है।

योजनाओं पर होती है चर्चा
नडेला ने कहा कि हम ऐसी टीम बनाते हैं जिसमें बहुमुखी क्षमताओं का समावेश होता है। इसमें आपस में बातचीत होती है, बैठकें होती हैं, कारोबार आगे बढ़ाने के लिए करार सम्बंधी योजनाओं पर चर्चा होती है। और, यह सब एक ही छत के नीचे होती है। माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ ने कहा कि एसएपी, सर्विसनाउ और सेल्सफोर्स जैसे महत्वपूर्ण ऐप बहुत तेजी से हमारी टीमों का हिस्सा बन रहे हैं ताकि टीमों की पूरी क्षमता एकीकृत हो जाए और इसके अहम सकारात्मक नतीजे सामने आएं।

यह भी पढ़ें—Microsoft के Teams में अब दिन भर कर सकते हैं फ्री कॉलिंग और चैटिंग, यहां जानें डिटेल

satya_nadella2.png

11.5 करोड़ से भी ज्यादा डेली यूजर्स तक पहुंच
उन्होंने कहा कि Covid महामारी के दौरान हमने देखा है कि सही तकनीकों ने किस तरह दुनिया भर में लगभग दो अरब फ्रंटलाइन वर्कर्स को सशक्त किया है। इसमें हमारी टीमों ने अग्रणी भूमिका निभाई है। वर्ष 2020 के अंत तक माइक्रोसॉफ्ट टीमों की पहुंच 11.5 करोड़ से भी ज्यादा डेली यूजर्स तक हो गई थी। नडेला ने हाल ही में कहा था कि ये टीमें इंटरनेट ब्राउजर्स और ऑपरेटिंग सिस्टम्स के रूप में भी जल्द ही अहम भूमिका निभाने में सक्षम साबित होंगी।

यह भी पढ़ें—अब विंडोज 10 पर चला सकेंगे Android apps, माइक्रोसॉफ्ट कर रही प्रोजेक्ट पर काम

डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन की आवश्यकता बढ़ी
पिछले सप्ताह इंटरप्राइज एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर प्रोवाइडर – एसएपी और माइक्रोसाफ्ट ने वीडियो कॉन्फ्रेंस और कोलाबोरेशन प्लेटफॉर्म टीमों को एसएपी इंटेलिजेंट सूट ऑफ सॉल्युशन्स को इंटिग्रेट करने का ऐलान किया था। उन्होंने यह भी कहा कि डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन की आवश्यकता पहले के मुकाबले अब और बढ़ गई है।

Show More
Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned