अब यूपी में सरकारी स्कूलों की छात्राओं को मुफ्त मिलेगा सैनेटरी नैपकीन

अब यूपी में सरकारी स्कूलों की छात्राओं को मुफ्त मिलेगा सैनेटरी नैपकीन

Laxmi Narayan | Publish: Feb, 15 2018 12:46:57 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

उत्तर प्रदेश में सरकारी स्कूलों की छात्राओं को मुफ्त सैनेटरी नैपकीन उपलब्ध कराने के मकसद से एक गैर सरकारी संस्था ने अभियान की शुरुआत की है।

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में सरकारी स्कूलों की छात्राओं को मुफ्त सैनेटरी नैपकीन उपलब्ध कराने के मकसद से एक गैर सरकारी संस्था ने अभियान की शुरुआत की है। मुफ्त सैनेटरी नैपकीन बांटने की शुरुआत लखनऊ और नोएडा से होगी। इस अभियान से जुडी संस्था चाइल्ड एसोसिएशन इण्डिया की टीम ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर 'सेव हर एक्सिस्टेंस' कार्यक्रम का लोगो भेंट किया। सेव हर एक्सिस्टेंस ( Save Her Exhistence) यानि शी ( SHE ) कार्यक्रम के माध्यम से सरकारी स्कूलों में मुफ्त सैनेटरी नैपकीन उपलब्ध कराई जाएगी। दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री में मुलाकात के दौरान संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवांश श्रीवास्तव मौजूद रहे।

यह भी पढें - एनकाउंटर को फर्जी बताने पर सपा को भाजपा ने दिया यह जवाब

नोएडा और लखनऊ से होगी शुरुआत

शिवांश ने बताया कि चाइल्ड एसोसिएशन ऑफ इण्डिया की इस पहल के माध्यम से नोएडा और लखनऊ के सरकारी स्कूलों में संस्था मुफ्त में सैनेटरी नैपकीन उपलब्ध कराएगी। इसके साथ ही मेंस्ट्रुअल साइकिल से जुड़ी कई गलतफहमियों को दूर करने के लिए जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा। संस्था के पदाधिकारियों ने मुलाकात के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री से सैनेटरी नैपकीन पर लगने वाले जीएसटी को खत्म करने की भी मांग उठाई।

यह भी पढें - कैसे बढे किसानों की आमदनी, यूपी सरकार की कर्जमाफी से असंतुष्ट हैं किसान

मेनका गांधी से भी हो चुकी है मुलाकात

इससे पहले संस्था के पदाधिकारी केंद्रीय मंत्री मेनका गाँधी से भी मुलाक़ात कर चुके हैं और अपने कार्यक्रम की जानकारी दे चुके हैं। केंद्रीय गृह मंत्री से मुलाकात के दौरान शिवांश के साथ संस्था से जुड़ी आयुषी कुशवाहा और वर्षा खुट्टेल भी मौजूद रहीं।

यह भी पढें - रेलवे ने 10 स्पेशल ट्रेनों का किया ऐलान, नहीं मिला टिकट तो इनमें कराएं रिजर्वेशन

यह भी पढें - बुंदेलखंड के किसानों के लिए सरकार ने किया राहत का ऐलान, आंदोलन की राह पर किसान

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned