विज्ञान का प्रयोग व अनुसंधान मानव कल्याण के लिए करेंगे

सीएम बोले-फेस्टिवल में आए सभी विज्ञान प्रेमियों का स्वागत है। हमे आप में कलाम व आइंस्टीन दिख रहे हैं।

By:

Updated: 06 Oct 2018, 08:28 PM IST

लखनऊ. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शनिवार को 'इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल का औपचारिक उद्घाटन किया। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि विज्ञान का प्रयोग स्वच्छ भारत मिशन में बेहतर तकनीक के रूप में किया जा रहा है। वहीं केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि नैनो टेक्नोलॉजी में दुनिया में तीसरे एवं सुनामी अर्ली वार्निंग सिस्टम में दुनिया मे नंबर एक स्थान भारत को प्राप्त है। विज्ञान के क्षेत्र में भारत ने काफी उन्नती की है। 5000 स्टार्टअप को सरकार ने मदद किया है। विज्ञान फेस्टिवल में आये हुए सभी विज्ञान प्रेमियों का स्वागत है। हमे आप में कलाम व आइंस्टीन दिख रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहली बार यूपी में इस प्रकार का कार्यक्रम हो रहा है आपका स्वागत व धन्यवाद। कहा कि तुलसी का प्रयोग धैर्य का प्रतीक है इसलिए सभी को तुलसी का पौधा भेंट में दिया है। हम पारंपरिक विज्ञान का प्रयोग करके मानवता का विकास करेंगे। विज्ञान का प्रयोग व अनुसंधान मानव कल्याण के लिए करेंगे।

इसीलिए चलते रहो चलते रहो

गवर्नर राम नाईक ने कहा कि 12000 से अधिक विज्ञान के छात्रों ने पंजीकरण कराकर आये हैं। यह चतुर्थ फेस्टिवल है। मुझे विश्वास है ये महोत्सव देश के बैज्ञानिक के लिए महत्वूर्ण है। मुझे अपनी विज्ञान के क्षेत्र में भी अभी बहुत आगे जाना होगा। इसलिए इसके लिए क्या करना है हम लोग विचार करेंगे। चलते रहो चलते रहो जो बैठा है उसका भाग्य बैठ जाता है, और जो चलते रहते है उनका भाग्य भी चलता रहता है इसीलिए चलते रहो चलते रहो।

युवा वैज्ञानिक अपना हुनर दिखा रहे हैं
राजधानी के इंदिरा गंाधी इन्दिरा प्रतिष्ठान में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विशिष्ट लोगों से मुलाकात की। इस दौरान राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,
राजधानी के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में शुक्रवार को शुरू हुए चौथे भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ) में शनिवार को प्रदर्शनी देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ी। आईआईटी कानपुर, आइसर कोलकाता, केआईआईटी इंक्यूबेटर, आईआईटी खडग़पुर प्रदर्शनी के अलावा देश भर से आए युवा वैज्ञानिक अपना हुनर दिखा रहे हैं। फेस्टिवल में देश-विदेश के वैज्ञानिक, डेलिगेशन और छात्र मौजूद रहे।

थीम परिवर्तन के लिए विज्ञान रखी गई है

देश में इनोवेशन और स्टार्टअप को बढ़ावा दिया जा रहा है। विज्ञान महोत्सव में देशभर से चुने गए करीब 200 स्टार्टअप आएं हैं। इनसे युवाओं को सीखने का मौका मिलेगा कि कैसे छोटे-छोटे इनोवेशन और आइडिया को कमाई के अवसर में बदला जा सकता है।
इस साइंस फेस्टिवल की थीम परिवर्तन के लिए विज्ञान रखी गई है। मेगा साइंस, टेक्नोलॉजी एवं इंडस्ट्री एक्सपो में सीएसआईआर, आईसीएआर, इसरो, डीआरडीओ सहित अन्य संस्थान अपनी उपलब्धियों को गोमती नगर रेलवे स्टेशन ग्राउंड में प्रदर्शित कर रहे हैं। देश ने विज्ञान एवं तकनीक के क्षेत्र में अब तक जितनी भी तरक्की की है उसकी झलक यहां एक पंडाल में देखने को मिल रही है।

PM Narendra Modi
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned