तब्लीगी जमात कार्यक्रम का होना बेहद अफसोसनाक मुस्लिम धर्म गुरु ने चेताया तुरंत करें यह काम नहीं तो ...

मुस्लिम धर्मगुरु राशिद फिरंगी महली ने कहाकि इस वक्त प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर है। भीड़ से संक्रमण फैल जाता है। इस दौरान इस कार्यक्रम का आयोजन अफसोसजनक है। इसकी जांच होनी चाहिए और उसके जांच में दोषी पाएं जाने पर जिम्मेदारियां तय होनी चाहिए।

By: Mahendra Pratap

Published: 31 Mar 2020, 09:00 PM IST

लखनऊ. मुस्लिम धर्मगुरु राशिद फिरंगी महली ने कहाकि इस वक्त प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर है। भीड़ से संक्रमण फैल जाता है। इस दौरान इस कार्यक्रम का आयोजन अफसोसजनक है। इसकी जांच होनी चाहिए और उसके जांच में दोषी पाएं जाने पर जिम्मेदारियां तय होनी चाहिए।

दिल्ली के निजामद्दीन में 13 मार्च से 15 मार्च तक तब्लीगी जमात की मरकज हुई। जिसमें देश—दुनिया से करीब 1500 अनुयायी शामिल हुए। उत्तर प्रदेश से भी 157 लोग इस मरकज में शामिल हुए थे। सोमवार को तब्लीगी जमात की मरकज में शामिल छह लोग कोरोना वायरस पाजिटिव की वजह से मर गए। जिस कारण उत्तर प्रदेश में हड़कंप मचा गया। मुस्लिम धर्मगुरु राशिद फिरंगी महली ने कहाकि मेरी तमाम लोगों से गुजारिश है जो लोग मरकज में शामिल हुए हैं कि वह मुल्क के जिस भी हिस्से में गए होंगे, वहां के स्थानीय प्रशासन को अपनी जानकारी दें।

तब्लीगी जमात के कार्यक्रम के बारे में मुस्लिम धर्मगुरु राशिद फिरंगी महली ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि तब्लीगी जमात एक धार्मिक संगठन है, जो दुनियाभर में फैला हुआ है। इसका मकसद यह है कि एक इंसान का दूसरे इंसान से क्या व्यवहार होना चाहिए। उस पर ये लोग काम करते हैं और प्यार का पैगाम दुनियाभर में पहुंचाने की कोशिश करते हैं। इसके चलते यह हमारे मुल्क में तशरीफ लाते हैं और मरकज निजामुद्दीन में रहते हैं।

तब्लीगी जमात कार्यक्रम का होना बेहद अफसोसनाक मुस्लिम धर्म गुरु ने चेताया तुरंत करें यह काम नहीं तो ...

प्रदेशभर में कोरोना वायरस फैला हुआ है, इस दौरान तब्लीगी जमात के कार्यक्रम पर मुस्लिम धर्मगुरु राशिद फिरंगी महली ने बेहद सख्त प्रतिक्रिया देते हुए कहाकि कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण के बीच इस कार्यक्रम का आयोजन का होना बेहद अफसोसनाक है, इसकी जांच होनी चाहिए और उसके मुताबिक ही जिम्मेदारियां तय होनी चाहिए। मेरी तमाम लोगों से गुजारिश है जो लोग मरकज में शामिल हुए हैं कि वह मुल्क के जिस भी हिस्से में गए होंगे, वहां के स्थानीय प्रशासन को अपनी जानकारी दें।

मुस्लिम धर्मगुरु राशिद फिरंगी महली ने अपील की कि वे सभी अपना टेस्ट कराएं जिससे कि प्रशासन उनकी भी जांच करके इलाज कर सकें। उनकी जान की हिफाजत को यकीनी बना सके और आप के जरिए से किसी दूसरे को यह बीमारी ना लगे, यह आपका मजहबी दायित्व है।

उत्तर प्रदेश में इस वक्त 102 कोरोना वायरस पाजिटिव हैं। पूरे प्रदेश में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया है। लाकॅडाउन का मतलब अपने घरों में रहना, कहीं बाहर नहीं टहलना। सिर्फ आवश्यक वस्तुओं के लिए रियायत है।

coronavirus
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned