तंबाकू खाने और जुर्माना देने में लखनऊ अव्वल, सार्वजनिक स्थल पर सिगरेट फूंककर भरा 55 लाख जुर्माना

Lucknow on top in tobacco consumption in Uttar Pradesh- राजधानी लखनऊ में तंबाकू खाने और इससे संबंधित जुर्माना देने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है। बीते वित्तीय वर्ष प्रदेश के सार्वजनिक स्थानों पर तंबाकू, सिगरेट आदि का सेवन करने वालों से एक करोड़ रुपये जुर्माने के रूप में वसूले गए।

By: Karishma Lalwani

Published: 21 Jul 2021, 05:46 PM IST

लखनऊ. Lucknow on top in tobacco consumption in Uttar Pradesh. राजधानी लखनऊ में तंबाकू खाने और इससे संबंधित जुर्माना देने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है। बीते वित्तीय वर्ष प्रदेश के सार्वजनिक स्थानों पर तंबाकू, सिगरेट आदि का सेवन करने वालों से एक करोड़ रुपये जुर्माने के रूप में वसूले गए। इसमें सबसे अधिक जुर्माना 55 लाख रुपये लखनऊ वासियों से वसूला गया है। इसके बाद कानपुर में 20 लाख और गाजियाबाद में 17 लाख का जुर्माना वसूला गया। जुर्माना देने के साथ ही तंबाकू प्रॉडेक्ट के इस्तेमाल में भी राजधानीवासी प्रदेश में पहले नंबर पर हैं। वहीं खपत के मामले में दूसरे पर वाराणसी और तीसरे नंबर पर फर्रुखाबाद है। इसके बाद मुरादाबाद और झांसी क्रमश: चौथे और पांचवे स्थान पर है।

तंबाकू प्रॉडक्ट पर 1000 का जुर्माना

यूपी में सार्वजनिक जगहों पर तंबाकू प्रॉडक्ट के सेवन पर रोक हैं। इसकी अनदेखी करने वालों पर 500 से लेकर 1000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। यहां तक कि तंबाकू, मसाला खाकर थूकना भी प्रतिबंधित है। नैशनल टोबैको कंट्रोल प्रोग्राम के स्‍टेट कंसल्‍टेंट सतीश त्रिपाठी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2020-21 वित्तीय में सार्वजनिक जगह पर तंबाकू पदार्थों का सेवन करने वालों से एक करोड़ से ज्यादा का जुर्माना वसूला गया है। सबसे ज्यादा जुर्माना लखनऊ से वसूला गया है।

युवा कर रहे सबसे ज्यादा सेवन

बलरामपुर अस्पताल के वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ. प्रवीण श्रीवास्तव के अनुसार युवा सबसे ज्यादा तंबाकू प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करते हैं। लड़कियां भी तेजी से इसकी गिरफ्त में आ रही है। सुपारी से शुरू हुआ शौक कब गुटखे तक पहुंच जाता है लोगों को पता ही नहीं चलता। ओपीडी में आने वाले मरीजों को काउंसलिंग के दौरान तंबाकू से होने वाले नुकसान की जानकारी व इससे बचाव दी जाती है।

ये भी पढ़ें: वाराणसी में बनेगा अंतरराष्ट्रीय सुविधाओं वाला इंटर मॉडल स्टेशन, एक ही छत के नीचे जल, नभ और फाइव स्टार होटल की सुविधाएं

ये भी पढ़ें: यूपी सरकार 217 शहरों में देगी फ्री वाई फाई की सुविधा, नगर निकाय उठाएगा खर्च

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned