किसानों की गुहार सुनने के बजाए भाजपा सरकार ठंड में मार रही पानी की बौछार : प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने कहाकि, किसानों से समर्थन मूल्य छीनने वाले कानून के विरोध में किसान की आवाज सुनने की बजाय भाजपा सरकार उन पर भारी ठंड में पानी की बौछार मार रही है।

By: Mahendra Pratap

Updated: 26 Nov 2020, 01:10 PM IST

लखनऊ. किसान बिल के विरोध में दिल्ली में 26 और 27 नवंबर को धरने के लिए किसान दिल्ली पहुंचने की जुगत ढूंढ़ रहे हैं। और सरकार किसी भी कीमत पर उन्हें दिल्ली में नहीं घुसने दे रही है। इस पर चिंता जताते हुए कांग्रेस महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने भाजपा सरकार पर ताना मारते हुए कहाकि, किसानों से समर्थन मूल्य छीनने वाले कानून के विरोध में किसान की आवाज सुनने की बजाय भाजपा सरकार उन पर भारी ठंड में पानी की बौछार मार रही है।

यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने गुरुवार को अपने ट्विट पर लिखा कि, किसानों से समर्थन मूल्य छीनने वाले कानून के विरोध में किसान की आवाज सुनने की बजाय भाजपा सरकार उन पर भारी ठंड में पानी की बौछार मारती है। किसानों से सबकुछ छीना जा रहा है और पूंजीपतियों को थाल में सजा कर बैंक, कर्जमाफी, एयरपोर्ट रेलवे स्टेशन बांटे जा रहे हैं।

मेधा पाटकर को रोका गया :- नए कृषि कानूनों के विरोध में करीब 500 किसान संगठनों ने आज और 27 नवंबर को दिल्ली में प्रदर्शन का आह्वान किया है। इस प्रदर्शन के लिए अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, राष्ट्रीय किसान महासंघ और भारतीय किसान संघ के अलग-अलग धड़ों ने 'दिल्ली चलो' का नारा दिया है। किसानों के दिल्ली कूच को देखते हुए यूपी पुलिस अलर्ट पर है। पुलिस ने नोएडा-दिल्ली बॉर्डर को सील कर दिया है। उधर मेधा पाटकर को बुधवार रात आगरा में सैंया सीमा पर जाजमऊ और बरैठा के बीच रोक लिया गया।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned