यूपी के सभी जिले में रिक्शा-टेंपो चालकों व पटरी दुकानदारों के लिए आज से विशेष कोरोनावायरस टीकाकरण अभियान

- यूपी में रिक्शा-टेंपो चालकों व पटरी दुकानदारों के लिए आज से विशेष टीकाकरण अभियान
- प्रत्येक जिले के आरटीओ ऑफिस में ड्राइवर बूथ और नगर पालिका परिसर में स्ट्रीट वेंडर्स बूथ स्थापित किए गए

By: Mahendra Pratap

Published: 14 Jun 2021, 10:03 AM IST

लखनऊ. UP Corona Vaccination यूपी में रिक्शा-टेंपो चालकों व पटरी दुकानदारों के लिए आज से विशेष टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है। यूपी के प्रत्येक जिले के आरटीओ ऑफिस में ड्राइवर बूथ और नगर पालिका परिसर में स्ट्रीट वेंडर्स बूथ स्थापित किए गए हैं। ड्राइवर बूथ पर रिक्शा, टैम्पो, व बस चालक तथा कंडक्टर व स्ट्रीट वेंडर्स बूथ में रेहड़ी, पटरी दुकान व फल-सब्जी विक्रेताओं को प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन किया जाएगा।

अयोध्या में प्रभु श्रीराम के नाम पर जमीन खरीद में करोड़ों रुपए का घोटाला : संजय सिंह

कई स्पेशल टीकाकरण अभियान :- अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद बताया कि, उत्तर प्रदेश सरकार सोमवार से रिक्शा, टेंपो व बस चालकों, रेहड़ी-पटरी दुकानदारों तथा फल-सब्जी विक्रेताओं के लिए कोरोना का विशेष टीकाकरण अभियान शुरू कर रही है। इसके अतिरिक्त प्रदेश में अभिभावक स्पेशल एवं महिला स्पेशल टीकाकरण पहले से चल रहा है। अभिभावक स्पेशल टीकाकरण में 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के अभिभावकों का टीकाकरण किया जा रहा है। ग्राम प्रधान अपना टीकाकरण करवाने के साथ-साथ ग्रामीणों का टीकाकरण कराने में भी सहयोग करें।

आरटीओ आफिस में ड्राइवर बूथ :- यूपी के प्रत्येक जिले के आरटीओ आफिस में प्रतिदिन कम से कम 100 कामर्शियल वाहन चालकों (टैक्सी, ऑटो रिक्शा व साइकिल/ई-रिक्शा चालक) और उनके सहयोगियों के लिए 50-50 क्षमता वाले दो ड्राइवर बूथ स्थापित किए जाएंगे। इनमे से एक बूथ 45 वर्ष से अधिक और दूसरा 18 से 44 वर्ष तक के नागरिकों के लिए होगा। यह वर्क प्लेस बूथ की तरह से क्रियाशील होगा, जिसमें संबंधित कार्यालय से सहयोग लेकर पंजीकृत कमर्शियल चालकों को प्राथमिकता के आधार पर टीके लगाए जाएंगे।

नगर निगम/नगरपालिका आफिस में स्ट्रीट वेंडर्स बूथ :- हर जिले के नगर निगम/नगरपालिका आफिस में प्रतिदिन कम से कम 100 फेरी-पटरी दुकानदारों के लिए 50-50 क्षमता वाले दो बूथ स्थापित किए गए हैं। इनमें से एक बूथ 45 वर्ष से अधिक और दूसरा 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के नागरिकों के लिए है। यह दोनों बूथ भी वर्कप्लेस कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर की तरह से काम करेंगे, जिनमें कार्यालय से सहयोग लेकर स्वनिधि योजना के तहत पंजीकृत फेरी वालों तथा फुटपाथ दुकानदारों व पंजीकृत रिक्शा चालकों को प्राथमिकता के आधार पर टीके लगाए जाएंगे।

वैक्सीनेशन अभियान का लक्ष्य :- योगी सरकार ने 1 जून 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए शुरू किए गए वैक्सीनेशन अभियान के तहत जून में 1 करोड़, जुलाई में 3 करोड़ लोगों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य रखा गया है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned