घरों को सैनेटाइज करने के लिए आगे आए लखनऊ के युवा, नगर निगम का दे रहे साथ

- युवा का कहना है कि कोरोना से लड़ाई जीतने के लिए सबका सहयोग है जरूरी

- लखनऊ के एमबीए व पीजी युवाओं के दल ने की अच्‍छी शुरूआत

 

By: Abhishek Gupta

Published: 19 May 2021, 08:02 PM IST

लखनऊ. राजधानी लखनऊ को कोरोना मुक्त करने लिए फ्रंटलाइन वर्कर्स के साथ कई युवा भी आगे आ रहे हैं। नगर निगम के साथ वे खुद शहर को सेनीटाइज करने का काम कर रहे हैं। अब तक शहर के तीन हजार से अधिक मकानों को सेनीटाइज किया जा चुका है। इन युवाओं में कुछ एमबीए एचआर है, तो कुछ एमबीए ट्रेनर है।

ये भी पढ़ें- कल यूपी के 3.30 करोड़ लोगों को 3 महीने का मुफ्त राशन देगी सरकार, यह होंगे पात्र

गोमतीनगर निवासी एमबीए एचआर नूर आलम सिद्दीकी बताते हैं कि कोरोना से लड़ाई सिर्फ सरकार की जिम्‍मेदारी नहीं है। हम सभी को कोरोना से लड़ाई जीतने के लिए आगे आना होगा। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ पूरे प्रदेश में सेनीटाइजेशन अभियान चला रहे हैं, खासकर ग्रामीण इलाकों में। सरकार के प्रयासों को देखते हुए हमारे दोस्‍तों ने इस लड़ाई में आगे आने का निर्णय लिया। इसके लिए हम लोगों ने शहर में सेनीटाइजेशन अभियान चलाने का निर्णय लिया। ग्रुप में शामिल करीब आधा दर्जन युवा अब तक तीन हजार से अधिक मकानों को सेनीटाइज कर चुके हैं।

ये भी पढ़ें- जीवन और जीविका जरूरी, करीब एक करोड़ गरीबों को मिलेंगे 1-1 हजार रुपए, सीएम योगी ने लिया फैसला

यहां चला अभियान-

एमबीए एचआर व एनएस साल्‍यूशन में शिक्षक नूर सिद्दीकी बताते हैं सेनीटाइजेशन कार्य में वह केमिकल वाइरेक्‍स 256 का इस्‍तेमाल कर रहे हैं। गोमतीनगर उजरियांव से उन्‍होंने सेनीटाइजेशन काम को शुरू किया । यहां पर उनकी टीम इसमें शहनवाज, शहजाद, शादाब व आरिज ने करीब 1500 से अधिक मकानों को सेनीटाइज किया। इसके बाद उन्‍होंने कैसरबाग, भीमनगर में 1200 से अधिक मकानों व अपार्टमेंट का सेनीटाइज करने काम किया है। नूर का कहना है कि हम सभी को कोरोना से लड़ाई में सरकार का सहयोग करना चाहिए।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned