scriptMurder government in Prayagraj gave compensation and license of 16Lacs | प्रयागराज में मर्डर: प्रियंका गांधी के पहुँचते ही सरकार ने जारी कर दिये 16 लाख रु और लाइसेन्स | Patrika News

प्रयागराज में मर्डर: प्रियंका गांधी के पहुँचते ही सरकार ने जारी कर दिये 16 लाख रु और लाइसेन्स

उत्तर प्रदेश में चुनाव से ठीक पहले प्रयागराज में हुई दलित परिवार की हत्या के बाद अब सियासत में बड़ा भूचाल आता दिखाई दे रहा है। मृतक परिवार के पास एक दिन पहले ही प्रियंका गांधी ने पहुँचकर परिवार से बातचीत। वहीं अब मायावती ने भी इस मामले में सरकार को घेरना शुरू कर दिया है।

 

लखनऊ

Published: November 27, 2021 01:15:37 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

प्रयागराज. यूपी के प्रयागराज में दलित परिवार के 4 लोगों की हत्या के मामले में योगी सरकार ने 16 लाख 50 हजार रुपए का मुआवजे का ऐलान किया है। वहीं इस मामले में पुलिस ने नामजद 11 आरोपियों में से 8 लोगों को हिरासत में ले लिया है। जबकि नामजद दो अभियुक्तों की पुलिस तलाश कर रही है. जिनकी लोकेशन मुंबई में पाई गई है। वहीं राज्य सरकार की ओर से डीएम ने 16.5 लाख का चेक परिवार को सौंपा है। वहीं इस मामले में राजनीतिक दलों के कूदने के बाद से ही सरकार और प्रशासन भी बैकफुट है।
prayagraj-news-uu-l-b-b-l_1637823046.jpeg
16 लाख का चेक और लाइसेन्स

शासन की ओर से जिलाधिकारी ने 16.5 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा कर दी है । मृतक के परिजनों की सभी मांगों को पूरा करते हुए परिवार की सुरक्षा के लिए मौके पर पिकेट लगा दिया गया है । डीईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के मुताबिक पीड़ित परिवार ने शस्त्र लाइसेंस की मांग की है । शस्त्र लाइसेंस के लिए अप्लाई करने पर जल्द ही उसमें कार्यवाही कर उसे दिलाने का काम किया जाएगा ।
क्या था पूरा मामला

मोहनगंज फुलवरिया गोहरी गांव निवासी फूलचंद (50) मजदूरी करता था। बुधवार रात वह घर में पत्नी मीनू देवी (45), 17 साल की बेटी सपना 17 और 10 साल के बेटे शिव के साथ सो रहा था। देर रात घर में घुसे हमलावरों ने चारों पर धारदार हथियार से हमला हत्या कर दी गई थी। सुबह हत्या की जानकारी पड़ोसियों को मिली तो वहां भीड़ लग गई और फिर सूचना पर फाफामऊ पुलिस मौके पर पहुंची गई थी।
सीओ सोरांव सुधीर कुमार एसपी गंगापार अभिषेक अग्रवाल भी मौके पर पहुंचकर जांच में जुटे है। मामले में पुलिस गहनता से जांच कर रही है।
रंजिश का था मामला

गांव का लोगों का कहना है कि फूलचंद पासी का किसी से ज्यादा विवाद नहीं था वह मेहनत मजदूरी करता था। दो दिन पहले किसी जमीनी विवाद को लेकर कुछ लोग उसके घर पर आकर धमकाया था। जमीनी विवाद को लेकर कुछ कहा सुनी हुई थी। गुरुवार को की सुबह जब घर का दरवाजा खुला था और कमरे के बाहर दंपति की और बेटे का लाश पड़ी थी। घर के अंदर नग्न हालात में बेटी लाश थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.