मिशन 2022 के लिए जुटीं सभी पार्टियां, विरोधियों की शिकस्त के लिए बनाया ये प्लान

मिशन 2022 के लिए जुटीं सभी पार्टियां, विरोधियों की शिकस्त के लिए बनाया ये प्लान

Ruchi Sharma | Updated: 13 Jun 2019, 01:57:22 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

-अखिलेश ने कहा-अभी से तैयारी में जुटें कार्यकर्ता
-कांग्रेस अकेले लड़ेगी चुनाव, ब्लॉक स्तर पर संगठन करेंगे मजबूत
-जमीन मजबूत करने को सडक़ों पर उतरेगी प्रसपा
-बसपा का बूथ मजबूत करने पर जोर

लखनऊ. लोकसभा चुनाव के बाद विधानसभा चुनाव 2022 के लिए राजनीति पार्टियों ने अभी से कसरत शुरू कर दी है। बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी अौर कांग्रेस पार्टी समेत अन्य राजनीतिक दल अपने अपने ढंग से चुनाव की तैयारी में जुट गए है। मिशन 2022 के तहत बसपा ने अपने बूथ मजबूत करने पर जोर दिया है। वहीं सपा ने अभी से कार्यकर्ताअों को तैयारी में जुटने के निर्देश दे दिए है। तो वहीं कांग्रेस ने अकेले चुनाव मैदान में उतरने की बात कही है। लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद भारतीय जनता पार्टी ने भी मिशन 2022 की डोर प्रदेश मुखिया योगी आदित्यनाथ के हाथों में दे दी है।

यह भी पढ़ें- सीएम योगी ने कैबिनेट बैठक में लिया अब तक का सबसे बड़ा फैसला, इन प्रस्तावों पर लगाई मुहर

बड़े प्रोजेक्ट्स को 2022 से पहले जमीन पर उतारने में जुटी भाजपा

भारतीय जनता पार्टी मिशन 2022 की तैयारी शुरू कर चुकी है। मिशन की कमान उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के हाथों में है, इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कोशिश प्रदेश मेें चल रहे बड़े प्रोजेक्ट्स को 2022 से पहले जमीन पर उतारने की है। इन प्रजोक्ट में गंगा एक्सप्रेस-वे, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे और जेवर इंटरनेशन एयरपोरिट जैसे बड़ा प्रोजेक्ट शामिल हैं। सीएम योगी खुद इन प्रोजेक्ट की मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- सपा से गठबंधन तोड़ने के बाद मायावती ने तीन ट्वीट कर किया ये बड़ा ऐलान, सरकार में मची अफरा तफरी

अखिलेश ने कहा-अभी से तैयारी में जुटें कार्यकर्ता

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी कार्यकर्ताओं को आह्वान करते हुए उपचुनावों के साथ ही मिशन 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारियों में अभी से जुट जाने का निर्देश दिया है। अखिलेश यादन ने पार्टी मुख्यालय पर कार्यकर्ताअों को संबोधित करते हुए कहा कि वे 2022 की सरकार में जनता की भागीदारी सुनिश्चत करने के लिए जन संवाद करें। उन्होंने कहा कि भापा सरकार में किसान, नौजवान सबसे ज्यादा परेशान हो रहे है। अखिलेश ने कहा कि घर-घर तक सच पहुंचाना चाहिए। 2022 में सपा की सरकार बनने पर फिर से विकास कार्यों में तेजी लाई जाएगी।

यह भी पढ़ें- सपा से आई बड़ी खबर, अखिलेश नहीं मुलायाम संभालेंगे कमान, मिलेगा ये पद, शिवपाल को लेकर ऐलान

बसपा का बूथ मजबूत करने पर जोर

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) नवंबर में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के सहारे साल 2022 के विधानसभा चुनाव का रास्ता तैयार करने की तैयारी में जुट गई है। बसपा की मंडलीय बैठक में बूथ और सेक्टर मजबूत करने के लिए अभियान चलाने के साथ भाईचारा कमेटी बनाने में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है। बसपा सुप्रीमो मायावती के निर्देश पर इन दिनों मंडलीय बैठकों का दौर चल रहा है।

जमीन मजबूत करने को सडक़ों पर उतरेगी प्रसपा

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) ने अब जनता से जुड़े सवालों को लेकर सड़कों पर उतरने का फैसला किया है। अपनी जमीन मजबूत बनाने जुटी प्रसपा सदस्यता अभियान चलाएगी अौर कार्यकर्ताअों के लिए जिलों में प्रशिक्षण शिविर लगाएगी। शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि कार्यकर्ताअों को लोगों के बीच जाकर समझाना चाहिए कि समाजवाद ही असली राष्ट्रवाद है। शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि लोकसभा चुनाव के नतीजों से हताश होने की जरूरत नहीं है। राजनीति में जितनी बड़ी हार होती है आगे उथनी बड़ी जीत भी मिलती है।

priyanka gandhi

कांग्रेस अकेले लड़ेगी चुनाव, ब्लॉक स्तर पर संगठन करेंगे मजबूत

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी जिलों के हारे पार्टी प्रत्याशियों अौर जिलाध्यक्षों के साथ समीक्षा बैठक करके न सिर्फ हार के कारणों को जानने की कोशिश की, बल्कि यूपी में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव बिना गठबंधन के ही लड़ने का एलान भी किया। इसके साथ ही समीक्षा बैठक में हार की वजह पर जल्द फैसला लेने के संकेत भी दिए। प्रिंयका ने निर्देश देते हुए हर ब्लॉक स्तर पर संगठन को मजबूत करने को कहा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned